'टुकड़े-टुकड़े गैंग' के खिलाफ कोई जानकारी नही, शब्‍द विवाद पर बड़ा खुलासा

Jan 21 2020 02:09 PM
'टुकड़े-टुकड़े गैंग' के खिलाफ कोई जानकारी नही, शब्‍द विवाद पर बड़ा खुलासा

देश की राजधानी दिल्ली में 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' को लेकर बहुत बवाल मचा था. लेकिन 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' के खिलाफ कई कार्यवाही को अंजाम दिया ​गया था. इस मामले को लेकर गृह मंत्रालय ने कहा है कि उसके पास 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' के बारे में कोई सूचना नहीं है. मंत्रालय ने एक आरटीआइ कार्यकर्ता की तरफ से सूचना का अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी के जवाब में ये बातें कहीं. बता दें कि 'टुकडे-टुकडे गैंग' का इस्तेमाल आमतौर पर दक्षिणपंथी दल, वाम समर्थित समूहों और उनके समर्थकों पर हमला करने के लिए प्रयोग किया जाता है. दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक कार्यक्रम में कथित रूप से राष्ट्र विरोधी नारे लगाए थे, इसके बाद से ही 'टुकडे-टुकडे गैंग' को लेकर विवाद बढ़ता चला गया.

2016 में लागू नोटबंदी को लेकर फर्जी ​लोगों के नाम हुए साफ!, इस क्षेत्र ने सबसे अधिक लगाया चूना

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि साकेत गोखले ने मंत्रालय से 26 दिसंबर को आरटीआइ आवेदन के जरिये 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' के बारे में जानकारी मांगी थी. उनका दावा है कि गृह मंत्रालय ने इस विषय पर किसी भी जानकारी उपलब्ध होने से इन्कार किया है. गोखले ने अपने ट्विटर हैंडल से इस आशय की सूचना साझा की है. साथ ही उन्होंने गृहमंत्रालय की तरफ से सोमवार को दिए गए जवाब की कापी भी पोस्ट की है.

वायुसेना केंद्र की तस्वीर खींच रहा था मोहम्मद इरफ़ान, हुआ गिरफ्तार

अपने बयान में गोखले ने बताया कि, 'गृह मंत्रालय के पास टुकड़े-टुकड़े गैंग के बारे में कोई जानकारी नहीं है.' गृह मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि खुफिया एजेंसी की तरफ से दी गई किसी रिपोर्ट में 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' का कभी उल्लेख नहीं किया गया है. हालांकि, उन्होंने आरटीआइ आवेदन पर भी संदेह जताया है.

दुष्कर्म के आरोपी को 10 वर्ष की सजा, दोस्त की नाबालिग बेटी का किया था रेप

नामांकन के पहले केजरीवाल ने किया ट्वीट कर दिया बयान, कहा- एक तरफ विपक्ष और दूसरी तरफ...

गंगा रक्षा में साध्वी पद्मावती ने दांव पर लगाई जान, तेजी से घट रहा वजन