भाजपा का समर्थन करने से बौखलाई एनसीपी, निष्काषित किए अपने 18 पार्षद

मुंबई: महाराष्ट्र के अहमदनगर नगर निगम में मेयर के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उम्मीदवार को समर्थन देने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने शनिवार को अपने सभी 18 नवनिर्वाचित पार्षदों को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. पार्टी ने अहमदनगर जिला प्रमुख को भी पद से हटा दिया है.

राबड़ी देवी पर टिप्पणी करने पर अपनी ही बेटी के निशाने पर आए पासवान

उल्लेखनीय है कि गत माह एनसीपी के 18 पार्षदों ने भाजपा के महापौर पद के प्रत्याशी बाबासाहेब वकाले के पक्ष में वोट किया था, जिसके कारण 68 सदस्यीय अहमदनगर नगर निगम में मात्र 14 पार्षद होने के बाद भी भाजपा यह चुनाव जीत गई थी. नगर निगम का यह चुनाव 10 दिसंबर को आयोजित किया गया था. नगर निगम में शिवसेना के सबसे ज्यादा 24 पार्षद थे. प्रदेश एनसीपी अध्यक्ष जयंत पाटिल ने शनिवार को मीडिया में बताया है कि अहमदनगर में हुए मेयर चुनाव में इन 18 पार्षदों ने पार्टी के व्हिप का अतिक्रमण किया था. 

सपा बसपा गठबंधन पर बोले राहुल, कहा पूरी ताकत के साथ लड़ेगी कांग्रेस

उन्होंने कहा है कि, ‘उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करके ऐसा करने की वजह बताने को कहा गया था. लेकिन पार्षदों ने नोटिस का जवाब नहीं दिया. इसलिए इन पार्षदों को पार्टी से निष्काषित कर दिया गया.' उन्होंने बताया कि अहमदनगर जिले के एनसीपी प्रमुख माणिकराव विधाते को भी उनके पद से हटा दिया गया है क्योंकि वे प्रदेश पार्टी नेतृत्व को पार्टी विरोधी गतिविधियों की वजह बताने में नाकाम रहे थे. 

खबरें और भी:-

अमित शाह का दावा, चाहे कितने गठबंधन हो जाएं, 2019 में भाजपा ही जीतेगी

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने उठाया गाय का मुद्दा, अब गौशाला खोलेगी कमलनाथ सरकार

सपा-बसपा गठबंधन पर शिवपाल यादव ने तोड़ी चुप्पी, कह दी बड़ी बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -