सिंधु जल संधि पर भारत के रूख से डरा पाकिस्तान

इस्लामाबाद एक ओर तो भारत द्वारा सिंधु जल संधि तोड़ने को लेकर चेतावनी दी गई है और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विभिन्न स्तरों की अलग-अलग बैठकों में सिंधु जल संधि पर चर्चा कर चुके हैं, मगर पाकिस्तान इस संधि को लेकर घबरा गया है। दरअसल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने कहा कि विश्व बैंक की मध्यस्तता में दोनों ही देशों ने सिंधु जल समझौते पर सहमति जताई थी।

इस मामले में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने एक बैठक का आयोजन किया। बैठक में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने अधिनस्थ अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि भारत सिंधु जल समझौते से अलग नहीं हो सकता है। भारत इस तरह के समझौते का विरोध करता है तो फिर पाकिस्तान विश्व बैंक में अपील करेगा। हालांकि पाकिस्तान विश्व बैंक में चर्चा कर चुका है।

नवाब शरीफ ने एक बार फिर कश्मीर राग अलापा उन्होंने कहा कि कश्मीर में हिंसा का कारण आजादी की छटपटाहट है। कश्मीरियों को पाकिस्तान का समर्थन जरूरी है। उन्होंने समूचे विश्व से इस बात के लिए उनका समर्थन करने की अपील की।

पाक ने LOC के पास फिर की फायरिंग, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

पाक से MFN का दर्जा छीनने के लिए आज होगी समीक्षा बैठक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -