नवरात्रि: किस दिन पहनना है कौन सा रंग?, जानिए यहाँ

हर साल नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है और यह पर्व नौ दिन का होता है. इन 9 दिनों में मां दुर्गा के नौ अलग अलग स्वरूपों की पूजा होती है। आप सभी को बता दें कि इस बार शारदीय नवरात्रि का पावन पर्व 7 अक्टूबर 2021 दिन बृहस्पतिवार से शुरु होकर 15 अक्टूबर 2021, शुक्रवार तक है। वहीं नवरात्रि में प्रतिदिन रंगों का भी विशेष महत्व है। कहा जाता है हर द‍िन मां के हर स्‍वरूप के ल‍िए एक रंग न‍िश्‍च‍ित क‍िया गया है। वहीं शास्त्रों के मुताबिक़ नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में हर एक दिन एक खास रंग मायने रखता है। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं नवरात्रि के नौ किन किन रंगो को पहनना चाहिए.


पहले दिन पीला रंग - नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा का विधान है। मां शैलपुत्री को पीला रंग अत्यंत प्रिय है। 

दूसरे दिन हरा रंग - नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विधान है। माता को हरा रंग अत्यंत प्रिय है.

तीसरे दिन भूरा रंग - नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा और कुष्मांडा की पूजा की जाती है। माता को भूरा रंग बेहद प्रिय है।

चौथे दिन नारंगी रंग - नवरात्रि के चौथे दिन स्कंदमाता की पूजा अर्चना का विधान है। माता को नारंगी रंग बेहद प्रिय है.

पांचवे दिन सफेद रंग - नवरात्रि के पांचवे दिन देवी कात्यायनी की पूजा अर्चना की जाती है। माता को सफेद रंग अत्यंत प्रिय है।

छठे दिन लाल रंग - नवरात्रि के छठे दिन माता के छठे स्वरूप कालरात्रि की पूजा का विधान है। माता को लाल रंग प्रिय है।

सांतवे दिन नीला रंग - इस दिन मां महागौरी की पूजा अर्चना की जाती है। माता को नीला रंग अत्यंत प्रिय है।

आंठवे दिन गुलाबी रंग - नवरात्रि का आठवां दिन नौ दिनों में सबसे खास होता है। इस दिन महाष्टमी होती है, अष्टमी के दिन मां सिद्धिदात्रि की पूजा करते है। माता को गुलाबी रंग बेहद प्रिय है।

आखिरी दिन बैंगनी रंग- नवरात्रि का नौवां दिन मां दुर्गा का होता है. मां दुर्गा को बैंगनी रंग अत्यंत प्रिय है।

आज इस पूजा विधि से करें माँ शैलपुत्री का पूजन

आज इस मन्त्र और प्रसाद से करें माँ शैलपुत्री को खुश

आ गई मातारानी: इन संदेशों से दें अपनों को नवरात्र की बधाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -