मीडिया रिपोर्ट्स का दावा, सिद्धू को मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रही पाकिस्तानी एजेंसी ISI

Sep 08 2018 06:43 PM
मीडिया रिपोर्ट्स का दावा, सिद्धू को मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रही पाकिस्तानी एजेंसी ISI

अमृतसर: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में जाकर पाकिस्तानी आर्मी चीफ गेनेराम कमर बाजवा से गले मिलने के कारण विवादों में घिरे पंजाब राज्य मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू अब एक नए विवाद में घिरते नज़र आ रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स द्वारा दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी सिद्धू को एक मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रही है. इससे पहले 7 सितम्बर को कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि पाकिस्तान सिक्खों के प्रसिद्ध स्थल करतारपुर कॉरिडोर को खोलने पर विचार कर रहा है. उनके इस बयान के बाद से मीडिया में इस तरह की खबरें चल रही है.

म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमों की मुश्किलें बढ़ी, सरकार ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट का भी आदेश किया खारिज

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान द्वारा करतारपुर कॉरिडोर खोलने के पीछे एक नापाक मंशा है, पाकिस्तान इस रास्ते के जरिए आतंकियों की घुसपैठ करना चाहता है और इसके लिए पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी ISI सिद्धू को मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रही है. मीडिया रिपोर्ट्स द्वारा दावा दिया जा रहा है कि इस रास्ते से पाकिस्तान खालिस्तानी आतंकी और मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला है. अब जब भारतीय सेना ने जम्मू कश्मीर की सीमा को पूरी तरह सील कर दिया है, ऐसे में पाकिस्तान इस रास्ते अपनी हरकतों को अंजाम देने की फ़िराक़ में है. 

बीजेपी की कार्यकारिणी बैठक में गरजे अमित शाह, कहा भाजपा को कोई पराजित नहीं कर सकता

हालांकि, पाकिस्तान की ओर से इस बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है कि वे करतारपुर कॉरिडोर खोलेंगे या नहीं. लेकिन पंजाब के राज्य मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी इसके लिए कोशिशें करते नज़र आए हैं. वे भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से इसके लिए आग्रह भी कर चुके हैं कि नवंबर 2019 में आने वाली श्री गुरुनानक जी की 550वीं जयंती पर करतापुर कॉरिडोर खोलने के लिए वे पाकिस्तान सरकार से बात करे. आपको बता दें कि करतारपुर के ऐतिहासिक गुरूद्वारे में श्री गुरुनानक जी ने अंतिम साँसे ली थी. 

खबरें और भी:-​

जल्द शुरू होगी बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक, अमित शाह पहुंचे, इन अहम् मुद्दों पर होगी चर्चा

बेघर दंपत्ति ने मूक-बधिर महिला को लिया गोद, मदद के लिए सरकार से लगाई गुहार

कश्मीर की समस्याओं के पीछे है इस नेता का हाथ?

?