अपनी पत्नी के चुनाव लड़ने पर कुछ ऐसा बोले नवजोत सिंह सिद्धू

Apr 11 2019 03:17 PM
अपनी पत्नी के चुनाव लड़ने पर कुछ ऐसा बोले नवजोत सिंह सिद्धू

चंडीगढ़ : अपनी पत्नी काे चंडीगढ़ से टिकट न दिला पाए पंजाब के कैबिनेट मिनिस्टर नवजाेत सिंह सिद्धू की नाराजगी खुलकर सामने आ गई है। सिद्धू ने बुधवार काे कहा, मेरी पत्नी कोई स्टेपनी नहीं कि जहां चाहें फिट कर दें। डाॅ. नवजाेत बठिंडा या आनंदपुर साहिब से चुनाव नहीं लड़ेंगी। बठिंडा में हरसिमरत काैर बादल काे कैप्टन अमरिंदर खुद चुनाैती दें। 

हवन-पूजन कर नामांकन दाखिल करने पहुंची यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी

कुछ ऐसा बोले सिद्धू

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा की बठिंडा से हरसिमरत को काेई चुनौती दे सकता है तो वह मुख्यमंत्री ही हैं। कैप्टन और उनके बेटे रणइंदर सिंह तलवंडी साबो और बठिंडा से चुनाव लड़ चुके हैं और उनकी परफाॅर्मेंस बेहतर रही थी। ऐसे में कैप्टन बठिंडा से भी कांग्रेस के मजबूत उम्मीदवार साबित हो सकते हैं। सिद्धू ने कहा कि उनकी पत्नी चंडीगढ़ से मजबूत उम्मीदवार हो सकती थीं पर बाहरी करार देकर टिकट नहीं दी। पार्टी के ऐसे दोहरे मापदंड वो स्वीकार नहीं करते। 

स्मृति ईरानी ने बोला राहुल पर हमला, कहा - वह खुद अपनी पार्टी के लिए सवाल बन चुके हैं

मैं खानदानी राजनीति नहीं कर रहा

इसी के साथ उन्होंने कहा अगर डॉ. सिद्धू चंडीगढ़ से चुनाव नहीं लड़ सकतीं तो बठिंडा और आनंदपुर साहिब से भी नहीं लड़ सकतीं। सिर्फ अमृतसर से लड़ सकती हैं क्योंकि वहां की निवासी हैं। स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा मैं खानदानी राजनीति नहीं कर रहा। मेरे कोई दो चेहरे नहीं। जो अंदर है, वही बाहर है। मैं दोहरी राजनीति नहीं कर सकता। मेरे खून में ऐसा नहीं है।

बारामुला: अलगाववादियों के मुंह पर करारा तमाचा, भारी मात्रा में वोट डालने पहुंचे मतदाता

लोकसभा चुनाव: माओवादियों की धमकी से भी नहीं डरीं 102 वर्षीय अम्मा, पहुंची मतदान केंद्र

लोकसभा चुनाव: महागठबंधन की वोटरों से अपील, कहा- महापरिवर्तन के पक्ष में दें वोट