नाटो ने रूसी सैनिकों को यूक्रेनी सीमा के पास रहने के लिए मजबूर किया

पेस्कोव ने प्रेस से कहा, हमारा मानना है कि बेहद संवेदनशील परिस्थितियों और शत्रुतापूर्ण माहौल के कारण उन ताकतों को बनाए रखना जरूरी है ।

उन्होंने चेतावनी दी, नाटो सैन्य निर्माण, अभ्यास और रूसी सीमाओं के पास लड़ाकू विमानों और जासूसी विमानों की नियमित उड़ानों की प्रतिक्रिया में रूस को एहतियाती कदम उठाने चाहिए । पेस्कोव के मुताबिक, अगर सुरक्षा आश्वासनों पर अमेरिका और नाटो के साथ चर्चा विफल हो गई तो भी रूस सैन्य कार्रवाई पर विचार नहीं करेगा ।

उन्होंने चेतावनी दी, फिर भी, अगर दोनों पार्टियां एक समझौते को हासिल करने में असमर्थ हैं, तो रूस "जवाबी कदम उठाने के लिए तैयार है । रूसी राजनयिकों ने जिनेवा में अमेरिकी अधिकारियों, वियना में यूरोप में सुरक्षा और सहयोग संगठन और ब्रसेल्स में नाटो के साथ इस सप्ताह के शुरू में मुलाकात की । वे सभी बिना किसी सफलता के पड़ाव पर आ गए ।

विश्व खाद्य कार्यक्रम ने पश्चिमी सूडान में परिचालन फिर से शुरू करने का फैसला किया

फ्रेंच नेशनल असेंबली ने वैक्सीन पास कानून अपनाया

दुनिया भर में कोविड केस 325.7 मिलियन के पार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -