मध्यप्रदेश : जनता के पैसे बर्बाद करने को लेकर राज्य सरकार से हाई कोर्ट ने मांगा जवाब

Feb 22 2020 10:46 AM
मध्यप्रदेश : जनता के पैसे बर्बाद करने को लेकर राज्य सरकार से हाई कोर्ट ने मांगा जवाब

हाई कोर्ट ने सांवेर जेल के बंद पड़े निर्माण को लेकर तल्ख टिप्पणी की है. कोर्ट ने कहा कि राज्य सरकार जनता का पैसा बर्बाद कर रही है. 17 करोड़ 91 लाख रूपए खर्च करने के बाद अचानक प्रोजेक्ट रोक दिया. जो निर्माण हुआ था वह भी अब जर्जर हो गया है. यह बहुत गंभीर मामला है. प्रमुख सचिव (गृह) दो सप्ताह में इस संबंध में शपथ पत्र पर विस्तृत जानकारी दें.

जल्द हरियाणा का नया अध्यक्ष तय करेगा बीजेपी हाईकमान, जाट और गैर जाट में फसेगा पेंच

कोर्ट के हुक्म की तामिल न करने पर उन्हें व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में उपस्थित होना पड़ेगा. हाई कोर्ट ने यह आदेश सांवेर जेल के बंद पड़े काम को लेकर चल रही जनहित याचिका में दिए हैं. याचिका एडवोकेट अभिजीत यादव ने दायर की है.मंगलवार 18 फरवरी को सुनवाई के बाद कोर्ट ने आदेश सुरक्षित रख लिया था जो शुक्रवार को जारी हुआ. दो पेज के आदेश में कोर्ट ने कहा है कि यह बहुत गंभीर है कि करोड़ों खर्च करने के बाद सरकार ने अचानक जेल प्रोजेक्ट बंद कर दिया. यह भी पता नहीं कि आखिर यह फैसला क्यों लिया गया था.

जनसंख्या संतुलन पर बोले संघ प्रमुख मोहन भागवत, कहा-कानून ऐसा बने जिससे देश का नुकसान...

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि प्रमुख सचिव कैबिनेट के प्रस्ताव स्वीकृत करने, एमओयू साइन होने, निर्माण होने और अचानक काम बंद करने के फैसले के संबंध में विस्तृत जवाब शपथ पत्र के साथ प्रस्तुत करें. दो सप्ताह में शपथ पत्र नहीं आया तो प्रमुख सचिव को खुद कोर्ट में उपस्थित होना पड़ेगा. हाउसिंग बोर्ड ने यह कहा याचिका में हाउसिंग बोर्ड का जवाब आ चुका है. बोर्ड ने कोर्ट को बताया कि कैबिनेट ने 2002 में सेंट्रल जेल निर्माण को स्वीकृति दी थी. 25 अक्टूबर 2002 को इस संबंध में एमओयू भी हो गया.

पंजाब : 200 यूनिट मुफ्त बिजली पर अमरिंदर सरकार ने लिया नया निर्णय

मशहूर अभिनेत्री उर्मिला भट्ट ने फिल्म 'गौरी' से की थी शुरुआत, जानिए मौत की वजह

इस सम्मेलन में भाग लेंगे PM मोदी, 3500 एथलीट होंगे शामिल