सबरीमाला : इस सेवानिवृत्त जज को मिली देवताओं के आभूषणों की सूची तैयार करने की जिम्मेदारी

Feb 07 2020 02:16 PM
सबरीमाला : इस सेवानिवृत्त जज को मिली देवताओं के आभूषणों की सूची तैयार करने की जिम्मेदारी

भारत की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट ने केरल हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त जज सीएन रामचंद्रन नायर को सबरीमाला मंदिर में देवताओं के आभूषणों की सूची तैयार करने के लिए नियुक्त किया है. सुप्रीम कोर्ट ने चार हफ्तों के भीतर इसकी डिटेल्स रिपोर्ट तैयार सब्मिट करने को कहा है. बता दें कि इससे पहले सबरीमाला मंदिर के पवित्र आभूषणों के संरक्षक पंडालम शाही परिवार में आंतरिक कलह और मुकदमेबाजी पर गंभीरता से संज्ञान लेते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को केरल सरकार से आभूषणों की सुरक्षा के उपाय सुझाने को कहा था. शीर्ष अदालत ने कहा कि ये आभूषण किसी परिवार के नहीं बल्कि भगवान अयप्पा के हैं. वह विवाद के निपटारे तक आभूषणों को कस्टडी में रखने के लिए किसी जिम्मेदार व्यक्ति को नियुक्त कर सकती है.

कश्मीर मुद्दे पर मुस्लिम देशों से समर्थन मांग-मांगकर थका पाकिस्तान, किसी ने नहीं दी तवज्जो

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सबरीमाला मंदिर समेत धार्मिक स्थलों पर महिलाओं के खिलाफ भेदभाव संबंधी अन्‍य मामलों पर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुरक्षित रख लिया गया. मामले की अगली सुनवाई सोमवार यानी 10 फरवरी को होगी. इससे पहले 6 फरवरी को हुई सुनवाई में सबसे पहले सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने अपनी दलीलें दीं.

फैंस की उमड़ती भीड़ में सारा को बचाने पहुंचे कार्तिक, देखिये वीडियो

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि दूसरे धर्म से जुड़े मामलों के साथ जोड़ने पर कुछ वकीलों द्वारा किए गए एतराज को लेकर अपना पक्ष दिया. उन्‍होंने कहा कि 9 जजों की बेंच के समक्ष जो मुद्दा है, उसका सबरीमाला मामले व उसकी समीक्षा से कोई लेना देना नहीं है. सॉलीसीटर जनरल ने आगे बताया कि समीक्षा याचिका पर सुनवाई कर रही बेंच ने सबरीमाला मामले में पूरे फैसले को बड़ी बेंच को नहीं भेजा. इसकी जगह धार्मिक परंपराओं से जुड़े बड़े मामलों को बड़ी बेंच के पास भेजा गया था.

दिल्ली में मतदान से पहले पुलिस ने पकड़ी अवैध शराब की बड़ी खेप, दो गिरफ्तार

जयेशभाई जोरदार की शूटिंग हुयी पूरी, रणवीर ने दिया अपना दो सौ प्रतिशत

निर्भया केसः इस दिन होगी दोषियों की अलग-अलग फांसी पर सुनवाई