भोपाल में खुलेगा राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पुर्नवास संस्‍थान

एमपी : प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल में राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पुर्नवास संस्‍थान (एनआईएमएचआर) खोलने की स्वीकृति दे दी. एनआईएमएचआर का मुख्‍य उद्देश्‍य मानसिक रूप से बीमार व्‍यक्तियों के पुर्नवास की व्‍यवस्‍था करना है .

बता दें पहले कि तीन वर्षों में इस परियोजना पर 179.5 करोड़ रूपये खर्च संभावित है. इसके लिए मंत्रिमंडल ने संयुक्‍त सचिव स्‍तर के तीन पदों जिनमें निदेशक का एक पद भी शामिल है, के अलावा प्रोफेसरों के दो पदों को भी मंजूरी दी है.मध्‍यप्रदेश सरकार ने इस संस्‍थान के लिए भोपाल में लिए पांच एकड़ जमीन दी है. यह संस्‍था दो चरणों में तीन वर्ष में तैयार हो जाएगा .मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में यह अपनी तरह का पहला संस्थान होगा.

उल्लेखनीय है कि इस संस्थान में मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पुनर्वास के क्षेत्र में 12 विषयों में डिप्‍लोमा, सर्टिफिकेट, स्‍नातक, स्‍नातकोत्‍तर और एम.फिल डिग्री सहित 12 पाठ्यक्रम होंगे. पांच वर्षों में इस संस्‍था में विभिन्‍न विषयों में दाखिला लेने वाले छात्रों की संख्‍या 400 सौ से ज्‍यादा हो जाने का अनुमान लगाया गया है.भवन निर्माण होने तक संस्‍थान सर्टिफिकेट और डिप्‍लोमा पाठयक्रम चलाने और ओपीडी सेवाएं देने के लिए भोपाल में एक भवन किराये पर लेगा.मतलब यह कि भवन निर्माण से पहले इसका लाभ मिलने लगेगा.

यह भी देखें

बेटे के फेल होने पर बाप ने मनाया जश्न

दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए जमशेद नारोजी गोदरेज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -