त्रिलोचन सिंह वजीर हत्याकांड को लेकर सामने आया एक और बड़ा सच, अचरज में पड़ी पुलिस

जम्मू: जम्मू कश्मीर के नेशनल कांफ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह वजीर के क़त्ल के केस में एक नया सच सामने आया है। हत्याकांड के संदिग्ध अपराधी हरमीत सिंह के फेसबुक प्रोफाइल पर कबूलनामा तथा कथित सुसाइड लेटर अपलोड हुआ। हरमीत सिंह के फेसबुक प्रोफाइल पर 5 पेज पोस्ट किए हैं, जिस पर लिखा है क़त्ल स्वयं उसने (हरमीत) ने की है, हरप्रीत ने नहीं।

वही इससे पूर्व इस केस में फरार चल रहे अपराधी हरप्रीत सिंह ने क़त्ल करने के पश्चात् अपने एक नजदीकी को कॉल कर बोला था कि, उसने तथा हरमीत ने मिलकर त्रिलोचन सिंह का क़त्ल कर दिया है आकर लाश ले जाओ। पुलिस ने जब हरप्रीत सिंह के मोबाइल के रिकॉर्ड को खंगाला तो पता चला कि इस फ़ोन के पश्चात् वो मोबाइल नई दिल्ली इलाके में आकर बंद हो गया। इसके पश्चात् अब हरमीत सिंह के फेसबुक प्रोफाइल पर अपलोड इस कबूलनामे ने कहानी को नया मोड़ दे दिया है।

कहा जा रहा है कि इस नोट में हरमीत द्वारा सुसाइड करने की बात भी लिखी गई है। हरमीत के कथित सुसाइड नोट के अनुसार, त्रिलोचन उर्फ वजीर उसका क़त्ल करवाना चाहता था इसलिए उसने स्वयं गोली मारकर हत्या कर दी। हालांकि पुलिस इस कबूलनामे की प्रामाणिकता की भी तहकीकात कर रही है। साथ ही यह देखा जा रहा है कि जब पुलिस की अलग-अलग टीमें हरमीत तथा हरप्रीत की खोज में जम्मू तथा अमृतसर तक दबिश दे रही हैं तो ऐसे में फेसबुक प्रोफाइल पर हाथ से लिखे गए सुसाइड नोट को अपलोड करने के पीछे की क्या मंशा हो सकती है। 

'नौकरी ही नहीं है तो क्या Sunday, क्या Monday...', बेरोजगारी को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र पर कसा तंज

अफगानिस्तान पर नई रणनीति बना रहा है पाकिस्तान?

प्रधानमंत्री मोदी ने चिराग को लिखा पत्र, कही ये बड़ी बात

Most Popular

- Sponsored Advert -