कर्नाटक : 1400 प्रवासियों को इस तरह सरकार ने भेजा घर

पीएम मोदी ने कोरोना पर काबू पाने के लिए लॉकडाउन 2 लागू किया है. जो अपने अतिंम चरणो में चल रहा है. ऐसे में देश के कोने-कोने में लोग अपने घरों से दूर फंसे हुए हैं. ऐसे लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए सरकार की तरफ से हरसंभव मदद की जा रही है. अब कर्नाटक में लगभग 1400 प्रवासियों को बसों से उनके जिले में पहुंचाया गया है. दरअसल, हुबली में एक ईंट की कंपनी में यह प्रवासी काम करते हैं. लॉकडाउन के चलते सभी वहां फंसे हुए थे. 

भारत में ठीक हो रहे हैं 96% मरीज, तो क्या जल्द खत्म हो सकता है कोरोना वायरस?

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कोविड-19 टास्क फोर्स के नोडल ऑफिसर डॉ. पुरुषोत्तम ने कहा, “हमारे पड़ोसी जिले के ईंट निर्माण इकाइयों में काम करने वाले आठ पड़ोसी जिलों के कुल 1473 मजदूरों को 74 बसों द्वारा उनके निवास पर भेजा गया है. 

लॉकडाउन 3 : 17 मई तक इन पाबंदियों में गुजरेगा जीवन

अपने बयान में उन्होंने बताया कि 876 मजदूर कलबुर्गी से हैं जहां पर 44 बसें भेजी गई. वहीं विजयपुरा में 27 बसे भेजी गई. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए सभी लोगों को उनके निवास पर पहुंचाया गया है. 

इन स्थानों पर बारिश और ओलावृष्टि के आसार

दिल्ली में लॉकडाउन के बाद भी बढ़ी संक्रमितों की संख्या

भारतीय सेना ने पाक सैन्य चौकियों का नामोनिशान मिटाया, पांच पा​क सैनिक भी हुए ढेर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -