NASA का बड़ा खुलासा : मंगल ग्रह पर पानी होने के मिले सबूत

By Sandeep Meena
Sep 28 2015 10:39 PM
NASA का बड़ा खुलासा : मंगल ग्रह पर पानी होने के मिले सबूत

नासा: नासा के वैज्ञानिकों ने मंगल ग्रह पर उत्तरी समुद्र होने के तथ्य जुटा लिए हैं। वैज्ञानिकों ने अपनी नई खोज के आधार पर कहा कि उत्तरी सागर का आकार उसके पूर्व में निश्चित किए गए आकार से बड़ा है। वही वैज्ञानिकों को उम्मीद है की यह खोज मंगल ग्रह पर जीवन तलाशने के अभियान में अहम साबित होगी। नासा के गोडार्ड सेंटर फॉर एस्ट्रोलॉजी के प्रिंसीपल इंवेस्टिगेटर और शोधकर्ता माईकल मुम्मा के नौसर मंगल ग्रह पर उत्तरी सागर होने की बहस बहुत समय से चलती आ रही है, लेकिन हाल ही में हुए इस रिसर्च के नतीजों के आधार पर उत्तरी सागर की होने की पुष्टि होती है।

वैज्ञानिकों ने अपने रिसर्च में मंगल के वातावरण में पानी के दो अलग रूपों को अलग-अलग तरीको से मापा। दोनों ही प्रयोग में पृथ्वी पर किए जाने वाले प्रयोगों के सामान ही परिणाम आएं। वही वैज्ञानिकों के अनुसार पृथ्वी पर पाए जाने वाले पानी की तुलना में मंगल में पाए जाने वाले पानी में 8 गुना ज्यादा ड्यूटेरियम मौजूद है। उन्होंने कहा कि मंगल पर प्राचीन काल में 450 फीट की गहराई तक पानी मौजूद था। वैज्ञानिकों के मुताबिक मंगल ग्रह पर पानी ज्यादातर 1 से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, जो उत्तरी गोलाद्र्ध में जमा होता है।