ओखी: गुजरात में आफत तो दिल्ली में राहत

नई दिल्ली. केरल, तमिलनाडु और लक्षद्वीप के लिए आफत और गुजरात और महाराष्ट्र के लिए कोहराम साबित हो रहा चक्रवाती तूफान ओखी दिल्ली और शेष उत्तर भारत के लिए वरदान साबित हो सकता है. यह दावा अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने किया है. नासा की मानें, तो गुजरात और महाराष्ट्र में ओखी का असर तो कम होगा, इसके साथ ही नई दिल्ली और उत्तरी भारत में जो धुंध का जाल बना हुआ है वह भी कम होगा. 

नासा ने एक चित्र जारी किया है जिसमें ओखी गुजरात और महाराष्ट्र की ओर बढ़ता दिखाई दे रहा है. नासा अर्थ ने वेबसाइट पर अपडेट पोस्ट में कहा है कि ओखी के आने से उत्तर भारत को धुंध और वायु प्रदूषण से मुक्ति मिल सकती है.

गौतलब है कि दिल्ली समेत उसके आस-पास के कई इलाकों में पिछले काफी समय से हवा में प्रदूषण की गुणवत्ता का स्तर काफी बढ़ा हुआ है जिसके चलते लोगों को सांस लेने में भी परेशानी हो रही है. दिल्ली के हालात पर हाईकोर्ट और एनजीटी कई बार केजरीवाल सरकार को फटकार लगा चुकी है. गुजरात में एंट्री से पहले ही ओखी तूफान शांत हो गया है. 

मौसम विभाग की मानें, तो बुधवार को गुजरात के कुछ इलाकों में बारिश हो सकती है. इनमें सूरत, नवसारी, वलसाड, भरूच, तापी, अमरेली, दीव, दमन समेत दक्षिण गुजरात के इलाके शामिल हैं. गुजरात के अलावा महाराष्ट्र में भी ठाणे, रायगढ़, ग्रेटर मुंबई समेत कुछ इलाकों में भी बारिश हो सकती है. 

जबरन धर्म परिवर्तन करवाने वाले ईसाई प्रचारक गिरफ्तार

कीमती कटहल से किसान बना लखपति

पुलिस की परेड रिहर्सल से आम जनता की बड़ी दिक्कत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -