नरेश अग्रवाल ने जताया खेद, लेकिन माफ़ी शब्द से किया परहेज

नरेश अग्रवाल ने जताया खेद, लेकिन माफ़ी शब्द से किया परहेज

दिल्ली : अक्सर अपनी उलजुलूल बयानबाजी और पार्टी बदलने की फितरत के लिए मशहूर समाजवादी पार्टी का दामन छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थामने वाले नरेश अग्रवाल के बीजेपी ज्वाइन करने के साथ ही विवादित बयान दिया था, जिस पर आज सुबह उन्होंने खेद जताया है. नरेश ने कहा कि वे किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहते और अगर उनके किसी बयान से किसी को दुःख हुआ है तो उसका उन्हें खेद है. उसने जब ये पूछा गया कि क्या आप अपने किये पर शर्मिंदा है और माफ़ी मांग रहे है, तो वे इस सवाल पर खेद जताते हुए कन्नी काट गए.

गौरतलब है कि बीजेपी में शामिल होते ही नरेश अग्रवाल ने कुछ ऐसा बयान दिया कि वह हर किसी के निशाने पर आ गए हैं. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी नरेश अग्रवाल के बयान की निंदा की है और बीजेपी से कड़ी कार्रवाई करने की अपील की है. मंगलवार सुबह अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ''श्रीमती जया बच्चन जी पर की गई अभद्र टिप्पणी के लिए हम भाजपा के श्री नरेश अग्रवाल के बयान की कड़ी निंदा करते है. ये फिल्म जगत के साथ ही भारत की हर महिला का भी अपमान है. भाजपा अगर सच में नारी का सम्मान करती है तो तत्काल उनके ख़िलाफ कदम उठाये. महिला आयोग को भी कार्रवाई करनी चाहिए.''


दरअसल, सोमवार शाम को बीजेपी में शामिल हुए नरेश अग्रवाल ने जया बच्चन पर पर टिप्पणी करते हुए कहा कि डांस करने वालों की वजह से सपा में मेरा राज्यसभा का टिकट काटा गया. उनके इस बयान से पार्टी के लिए कुछ देर के लिए असहज स्थिति हो गई. वही बीजेपी की महिला नेताओं विदेश मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज, स्मृति ईरानी और रूपा गांगुली ने भी नरेश अग्रवाल के बयान पर विरोध दर्ज कराया है. जिसके बाद संदीप पत्र को बीजेपी की और से सफाई देनी पड़ी थी. 

विवादास्पद बयानों के लिए चर्चित नरेश अग्रवाल

बीजेपी और महिला आयोग नरेश अग्रवाल पर एक्शन लें- अखिलेश

अजगर-नरेशों का 2G नेटवर्क हर जगह कामयाब है- कुमार विश्वास

 

 

?