इस वजह से अपनी पत्नी के साथ नहीं रहते नरेंद्र मोदी, भाई ने किया बड़ा खुलासा

Feb 06 2019 07:00 AM
इस वजह से अपनी पत्नी के साथ नहीं रहते नरेंद्र मोदी, भाई ने किया बड़ा खुलासा

दुनियाभर का हर इंसान नरेंद्र मोदी जी को जानता है. ऐसे में नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठने से पहले ही अपनी पत्नी का त्याग कर दिया था इस बात से भी सभी वाकिफ है. ऐसे में बहुत कम लोग इस बात को जानते हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया था? जी हाँ, ऐसे में अगर आप भी इस सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया. दरअसल हाल ही में नरेंद्र मोदी जी के वैवाहिक जीवन पर नरेंद्र मोदी जी के भाई ने बड़ा खुलासा किया है जो आप सभी को हैरान कर देगा. जी हाँ, हाल ही में उन्होंने इस खुलासे में बताया है कि नरेंद्र मोदी ने अपनी धर्मपत्नी को क्यों छोड़ दिया और आखिर क्यों अब वह उनके साथ नहीं रहते हैं..?

आप सभी को यह तो पता ही हैं कि नरेंद्र मोदी एक गुजराती परिवार से ताल्लुक रखते हैं और गुजरात से उनका गहरा नाता क्योंकि गुजरात से ही उनके माता पिता थे और उनका जन्म भी गुजरात में हुआ था. वहीं नरेंद्र मोदी जी जब 17 साल के थे तब ही उनकी शादी हो गई थी और जिस लड़की से उनकी शादी हुई थी उनका नाम जशोदा बेन था. इसी के साथ जब उनकी शादी हुई थी तब नरेंद्र मोदी जी की पत्नी 15 साल की थी और उस समय पढ़ाई को उतना ज्यादा महत्व नहीं दिया जाता था और कम उम्र में ही शादी कर दी जाती थी और लड़की घर संभालने लगती थी. ऐसे में जब नरेंद्र मोदी जी की शादी हुई थी तब मोदी जी और उनकी धर्मपत्नी नाबालिग ही थे और शादी के 3 साल अपनी धर्म पत्नी के साथ रहने के बाद नरेंद्र मोदी जी ने अपनी धर्म पत्नी को त्याग दिया था. जी हाँ 3 साल बाद ही वह अपनी पत्नी को छोड़कर चले गए थे.

इस बारे में हाल ही में बात करते हुए नरेंद्र मोदी जी के भाई ने कहा, ''नरेंद्र मोदी जी अपने सांसारिक सुख को त्याग कर अपने भारत देश पर अपना जीवन समर्पित करने का निर्णय दे चुके थे और यह एक कारण था कि उन्होंने अपने पत्नी का त्याग कर देश को अपना जीवन दे दिया.'' 

BJP की सबसे हॉट और सेक्सी लीडर है बिग बॉस की यह कंटेस्टेंट, देखकर पागल हो जाएंगे आप

जब तक लालू के सामने मत्था नहीं टेकेंगे राहुल, सीट बंटवारे पर नहीं हो पाएगा फैसला - जदयू

नाम सत्याग्रह का और बचाव भ्रष्टाचार का, ये ममता का महा‘ठग’बंधन - भाजपा