तनावग्रस्त व्यक्ति कुछ भी हासिल नहीं कर सकता : मोदी

Apr 22 2015 12:33 PM
तनावग्रस्त व्यक्ति कुछ भी हासिल नहीं कर सकता : मोदी
style="text-align: justify;">नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने व्यस्त कार्यक्रमों से समय निकालकर अधिकारियों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने सिविल सर्विस डे पर अधिकारियों की परेशानियों पर भी ध्यान दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तनावग्रस्त व्यक्ति कुछ भी हासिल नहीं कर सकता है। जीवन में तनाव तो बिल्कुल नहीं होना चाहिए। उन्होंने मैनेजमेंट गुरू की तरह अधिकारियों को समझाईश दी। मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिविल सर्विस डे पर सिविल सर्विस के अंतर्गत लोकसेवा करने वाले अधिकारियों के बीच पहुंचे।

इस दौरान उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों को जीवन मंत्र दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि तनाव तो बिल्कुल भी नहीं होना चाहिए। मगर जब बात देश चलाने की हो तो तनाव होना ही नहीं चाहिए। अधिकारी यदि तनाव में रहेंगे तो काम बिल्कुल भी नहीं हो पाएगा। उन्होंने कहा कि आप बहुत पढ़ते होंगे। आप आईम मैनेजमेंट अच्छा कर लेते हैं।

मगर क्या आप परिवार के साथ क्वालिअी समय बिताते हैं। जीवन की चिंता नहीं करोगे तो फाईल भी उसी जैसी हो जाएगी। आपका जीवन फाईलों के आसपास नहीं बल्कि परिवार के साथ भी बीतना चाहिए। जीवन रोबोट जैसा नहीं है। आपको सदैव सीरियस रहने को कहा जाता है। ऐसा नहीं हो सकता। क्या आपके खुश रहने पर पाबंदी लगाई गई है।

इस दौरान अधिकारी ठहाके लगाकर हंस पड़े। उन्होंने ई गवर्नेंस, मोबाइ्रल गवर्नेंस पर ध्यान दिए जाने की बात करते हुए अधिकारियों से टेक्नोलाॅजी पर जोर देने की अपील भी की।