PM मोदी ने की देश की पहली स्वर्ण मुद्रा योजना की शुरुआत

नई दिल्ली : देश की पहली "स्वर्ण मुद्रा योजना" के साथ ही आज गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोने को लेकर निवेश के क्षेत्र में तीन नई योजनाओं का शुभारम्भ किया है. मामले में आपको यह जानकारी भी दे दे कि अशोक चक्र वाली मुद्रा योजना के साथ ही प्रधानमन्त्त्री ने स्वर्ण मौद्रिकरण योजना और सावरेन स्वर्ण बांड योजना की पेशकश भी की है. इसके साथ ही यहाँ कई लोगों ने सोने के बांड की खरीदारी भी की और नरेंद्र मोदी के द्वारा ही उन्हें शुभकामना भी दी गई है.

मामले में ही वित्त मंत्रालय से यह बात सामने आई है कि जहाँ योजना की शुरुआत में 5 और 10 ग्राम में स्वर्ण मुद्रा पेशकश की गई है वहीँ 20 ग्राम की बट्टी भी सामने लाई गई है. साथ ही आपको यह भी बता दे कि इस योजना के तहत 5 ग्राम के 15,000 सिक्के, 10 ग्राम के 20,000 सिक्के और 3,750 स्वर्ण बट्टियां उपलब्ध करवाई गई है. 

यह कहा जा रहा है कि मुद्रा के तहत इनको आधुनिक रूप से बनाया गया है और साथ ही इनकी पैकेजिंग पर भी काफी ध्यान दिया जा रहा है. आपको इस बारे में जानकारी देते हुए यह भी बता दे कि यह नई योजना स्वर्ण जमा योजना, 1999 का स्थान ले रही है. लेकिन साथ ही यह बताया जा रहा है कि योजना के तहत जो बकाया है उसे उसकी परिपक्वता अवधि तक चलाने की अनुमति दी जा रही है.

गौरतलब है कि सरकार के द्वारा इसी वर्ष सितम्बर माह के दौरान इस योजना को मंजूरी प्रदान की गई थी. और इसका उद्देश्य 5,40,000 करोड़ रुपये के बेकार पड़े हुए 20,000 टन सोने के एक हिस्से को बैंकिंग प्रणाली में उपयोग करना है. गौरतलब है कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी बजट पेश करते वक़्त स्वर्ण मुद्रा, स्वर्ण मौद्रिकरण और साथ ही बांड योजना के बारे में भी बात की थी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -