3 माह के लिए बढ़ी मुफ्त राशन योजना, केंद्रीय कर्मचारियों को भी मिला दिवाली गिफ्ट

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार ने देश के गरीब वर्ग को बड़ी राहत देते हुए मुफ्त राशन देने की योजना को तीन माह और बढ़ाने का फैसला किया है। यह स्कीम 30 सितंबर को ख़त्म हो रही थी। इससे पहले सरकार ने योजना को तीन माह यानी इस साल के आखिर तक के लिए बढ़ाने का फैसला किया है। बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुई कैबिनेट मीटिंग में यह फैसला लिया गया। इसके साथ ही केंद्रीय कर्मचारियों को भी केंद्र सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) में भी 4 फीसदी की वृद्धि की गई है।

वित्त मंत्रालय के अनुसार, तीन माह तक फ्री राशन की स्कीम को आगे बढ़ाने से खजाने पर 45,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार आएगा। सरकारी सूत्रों ने बताया है कि केंद्र सरकार ने अपने पास जमा खाद्यान्न के स्टॉक की समीक्षा करने के बाद यह निर्णय लिया है। फिलहाल सरकार के पास बड़े पैमाने पर खाद्यान्न मौजूद है। इससे पहले चर्चाएं थीं कि शायद मुफ्त राशन की स्कीम को अब बंद कर दिया जाएगा, किन्तु इस फैसले को सियासी नज़रों से भी देखा जा रहा है।

दरअसल, ऐसा इसलिए क्योंकि अगले तीन महीनों में गुजरात और हिमाचल में चुनाव प्रस्तावित हैं। ऐसे में योजना को तीन महीने के लिए बढ़ाने के फैसले को इससे भी जोड़कर देखा जा रहा है। कोरोना महामारी के संकट काल में केंद्र सरकार की तरफ से पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना के नाम से इस स्कीम को लॉन्च किया गया था। इसके तहत प्रति माह हर व्यक्ति को 5 किलो मुफ्त राशन दिया जाता है।

Twitter का 'आतंकी' चेहरा फिर हुआ बेनकाब ! अब PFI के समर्थन में कर रहा खेल

भारत और हिन्दुओं के खिलाफ 'अल जजीरा' ने फिर उगला जहर, जानिए क्या बोला 'आतंक' समर्थित मीडिया ?

'RSS पर भी लगे प्रतिबंध...' PFI बैन पर आया लालू यादव का बड़ा बयान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -