समुद्री सुरक्षा को लेकर मोदी ने जाहिर की चिंता

Feb 08 2016 09:27 AM
समुद्री सुरक्षा को लेकर मोदी ने जाहिर की चिंता

नई दिल्ली : बीते रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समुद्र को जरिया बनाकर होने वाली आतंकी गतिविधियों के साथ ही समुद्री डकैती को लेकर चिंता जताई है. जबकि इसके साथ ही यह भी बता दे कि इनकी सुरक्षा को मुख्य विषय बताते हुए उन्होंने इसे एक बहुत बड़ी चुनौती भी बताया है. बता दे कि नरेंद्र मोदी ने इंटरनेशनल फ्लीट रिव्यू के समापन समारोह के दौरान ये बातें कही है जबकि उन्होंने इसके साथ ही समुद्री सुरक्षा को लेकर भी बात की है और चिंता भी जाहिर की है.

इस मामले में अधिक जानकारी देते हुए आपको यह भी बता दे कि नरेंद्र मोदी ने कुछ अहम मुद्दों को भी शामिल किया है. जैसे मुंबई के 26/11 के हमले को याद करते हुए उन्होंने कहा है कि समुद्र के जरिये पैदा होने वाले खतरे से देश सीधे रूप से प्रभावित हो रहा है. साथ ही यह भी कहा है कि समुद्र से जो खतरा पैदा हो रहा है वह क्षेत्रीय व वैश्विक शांति के साथ ही अब देश में स्थिरता पर भी एक बड़े खतरे के रूप में छा रही है.

मोदी ने अधिक बात करते हुए यह भी कहा कि समुद्री लुटेरो के द्वारा भारत के साथ ही कई अन्य देशों के व्यापारिक पोतों को निशाना बनाया जा रहा है. जोकि एक बड़ी चुनौती के रूप में हमारे सामने खड़ा है. जबकि इसके अलावा उन्होंने दक्षिण चीन सागर विवाद की तरफ अपना रुख करते हुए यह कहा कि सभी देशों को यह चाहिए कि वे नौवहन की आजादी का सम्मान करे. सभी देशो को आज प्रतिस्पर्धा की बजाय सहयोग पर अधिक ध्यान देना चाहिए. गौरतलब है कि भारत के द्वारा अप्रैल माह के दौरान पहले वैश्विक समुद्री शिखर सम्मेलन की मेजबानी की जाना है.