हम यहां सत्ता के लिए नहीं आए हैं : मोदी

Apr 19 2015 04:19 PM
हम यहां सत्ता के लिए नहीं आए हैं : मोदी
नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भाजपा सांसदों को संबोधित करते हुए कहा कि हम यहां सत्ता के लिए नहीं, बल्कि लोगों की सेवा करने के लिए हैं। मोदी ने सांसदों को सिर्फ जनता पर विश्वास करने को कहा। मोदी ने कहा, "हम यहां सत्ता के लिए नहीं आए हैं। हम यहां देश की सेवा के लिए आए हैं।" आप लोगों को जनता में विश्वास करना चाहिए। मोदी ने कहा कि सरकार को जनता का आभार व्यक्त करना चाहिए कि जनता ने उन पर भरोसा किया और पूर्ण बहुमत के साथ हमारा चुनाव किया।

मोदी ने सांसदों को बताया कि देश का गरीब इस सरकार से क्या चाहता है। "क्या सपना देखना बुरा है कि देश के प्रत्येक गरीब आदमी के पास खुद का मकान और शौचालय हो।" उन्होंने अपनी सरकार की योजनाओं और परियोजनाओं के बारे में कहा कि देश में गरीबों और दलितों के जीवन को आसान बनाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।

उन्होंने अपनी 'बेटी बचाओ' अभियान के बारे में भी चर्चा की और कहा कि यदि कोई मुस्लिम या दलित की बेटी अशिक्षित रह जाएगी, तो यह देश को आगे ले जाने की पूरी योजना की हार होगी।

उन्होंने संसद के आगामी सत्र के बारे में भी चर्चा की और इस बारे में भी किस तरह से सांसद सरकारी नीतियों का बचाव कर सकते हैं। मोदी पहले ही सासंदों से अपने निर्वाचन क्षेत्रों का दौरा करने और सरकार की विभिन्न नीतियों पर प्रतिक्रिया लेने को कह चुके हैं।

प्रधानमंत्री ने सांसदों के साथ अपनी हाल ही में संपन्न हुई तीन देशों की यात्रा और यमन से भारतीयों को सुरक्षित निकालने की सफलता पर भी चर्चा की। उन्होंने यमन से भारतीयों को सुरक्षित निकालने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और विदेश राज्यमंत्री वी.के.सिंह के प्रयासों की भी प्रशंसा की।