नज़ाक़त आ गई मुझ में

tyle="text-align:justify">कुछ ठोकरों के बाद, नज़ाक़त आ गई मुझ में,
मैं अब दिल के मशवरों पे, भरोसा नहीं करता...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -