नाबार्ड ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए 1.34 लाख करोड़ रुपये की ऋण क्षमता का अनुमान लगाया

भुवनेश्वर: अधिकारियों ने मंगलवार को कहा कि नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट (नाबार्ड) ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए ओडिशा की ऋण क्षमता 1,34,665 करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया है।

2022-23 के लिए ऋण परियोजना 1,10,735 करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष की तुलना में 21.61 प्रतिशत अधिक है। वर्ष 2022-23 के लिए ओडिशा के लिए नाबार्ड के स्टेट फोकस पेपर, जो मंगलवार को यहां जारी किया गया, ने यह खुलासा किया।

कृषि उद्योग को प्राथमिकता क्षेत्र के लिए कुल ऋण क्षमता की सबसे बड़ी राशि 52,050.78 करोड़ (38.65 प्रतिशत) के लिए मूल्यांकित किया गया है। कृषि ऋण, जिसमें कृषि और संबद्ध क्षेत्रों के लिए फसल ऋण और सावधि ऋण दोनों शामिल हैं, कृषि क्षेत्र में 48,221.10 करोड़ रुपये (92.64 प्रतिशत) प्रवाहित होने की उम्मीद है। इसके अलावा, कृषि बुनियादी ढांचे और संबद्ध कार्यों के लिए ऋण क्षमता क्रमशः 1,824.33 करोड़ रुपये और 2,005.34 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम क्षेत्र में 60,001.27 करोड़ रुपये की ऋण क्षमता है, जो संपूर्ण प्राथमिकता वाले क्षेत्र का 44.56 प्रतिशत है। निर्यात ऋण, शिक्षा, आवास, नवीकरणीय ऊर्जा, अन्य, और सामाजिक अवसंरचना प्राथमिकता क्षेत्र में संपूर्ण ऋण क्षमता का लगभग 16.79 प्रतिशत है।

'ओमिक्रॉन' में नजर आया ये असामान्य और खतरनाक लक्षण, बढ़ेगा खतरा

विश्वविद्यालय में 10वीं और 12वीं पास युवाओं के लिए निकली नौकरियां, यहां देंखे पूरा विवरण

यहां पर निकली 800 से ज्यादा पदों पर भर्तियां, जल्द करे आवेदन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -