घूमने गई दो बहनों की रहस्यमयी कहानी

सोशल नेटवर्किंग साइट रेडिट पर हाल ही में एक मुद्दा बड़े ही ज़ोरों पर चल रहा है, जिसपर लोगों की लगातार प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है. दरअसल घटना है दो लड़कियों की जो छुट्टियां मनाने निकली थी और अभी तक घर नहीं लौटी हैं. उनके पेरेंट्स अब भी अपनी बेटियों के लौटने का इन्तजार कर रहे हैं और इसी बात की तलाश में लगे हैं कि वह जिन्दा है या मर चुकी हैं.

Kris Kremers और Lisanne Froon छुट्टियां बिताने के लिए पनामा गई थीं. दो हफ़्तों तक जगह को एक्स्प्लोर करने के बाद 1 अप्रैल 2014 की रात में दोनों होटल से एक कुत्ते के साथ बाहर निकलीं लेकिन कभी लौट कर वापस नहीं आईं. वहां कि अथॉरिटी ने इस केस कि तफ्तीश की और लड़कियों का पता लगाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मिली. 6 अप्रैल को क्रिस और लिसेन के घर वाले उन्हें ढूंढने के लिए कुछ डिटेक्टिव्स के साथ पनामा पहुंचे लेकिन उन्हें भी वहाँ कुछ नामों निशान नहीं मिला.

पनामा की ही एक रहवासी महिला को एक बैग मिला था जिसे उसने पुलिस के हवाले कर दिया. उस बैग में कुछ पैसे, चश्मा, कैमरा, कपड़े और दो फोन मिले. फोन्स मिलते ही पुलिस ने छान-बीन करना शुरू कर दी और पता चला कि क्रिस और लिसेन ने पनामा की पुलिस को 77 कॉल लगाए थे, लेकिन सिग्नल न होने के कारण कोई भी कॉल लग नहीं पाया. पुलिस को फोन से उनकी ट्रिप की कुछ फोटोज मिले. एक फोटो में ऐसा दिखाई दे रहा था जैसे जंगल में उन दोनों का सामान बिखरा पड़ा हो और एक फोटो में ऐसा नजर आ रहा था जैसे क्रिस के सिर से खून बह रहा हो.

इस हादसे के 2 महीने बाद पुलिस को उस जगह से कुछ हड्डियां मिली. लेकिन ये यकीन के साथ नहीं कह सकते थे कि ये क्रिस और लिसेन की हड्डियां हैं.

Photos : मस्ती के मूड में नज़र आये बिपाशा-करन

जब इस गरीब ने ली महँगी गाड़ी तो चौंक गए सेल्समेन

टिकट नहीं मिलने पर बीजेपी छोड़ी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -