मुज़फ्फरनगर में दिखी भाईचारे की मिसाल, कांवड़ियों की सेवा के लिए मुस्लिमों ने लगाए कैंप

Jul 25 2019 05:51 PM
मुज़फ्फरनगर में दिखी भाईचारे की मिसाल, कांवड़ियों की सेवा के लिए मुस्लिमों ने लगाए कैंप

मुजफ्फरनगर: सावन के पवित्र माह में बाबा भोलेनाथ के भक्तों की कांवड़ यात्रा जारी है. हरिद्वार से गंगा जल लेकर भोलेनाथ के भक्त नाचते- गाते कावड़ यात्रा की रौनक बढ़ा रहे हैं. हरिद्वार से दिल्ली या हरियाणा आने वाले कांवड़िए मुजफ्फरनगर जिले के पुरकाजी, छपार, सरवट समेत कई मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों से गुजरते हैं, जहां इस बार मुस्लिम समुदाय के लोग कैंप लगाकर बाबा भोलेनाथ के भक्तों की सेवा कर रहे हैं.

मुजफ्फरनगर के मदीना चौक पर मेडिकल कैंप लगाया गया है, जहां डॉक्टरों की एक टीम तैनात है और कई दूसरे सेवादार भी यहां मौजूद रहते है ताकि शिवभक्तों को किसी तरह की समस्या ना हो. महादेव की भक्ति में लीन शिवभक्तों की सेवा में लगाए गए कैंप को संचालित करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता कमर इंतिखाब का कहना है कि मुजफ्फरनगर दंगों के के बाद से ही शहर में नफरतों का सिलसिला तेजी के साथ चला था. हमने महसूस किया, कि इस नफरत को हराने के लिए कावड़ यात्रा में शामिल श्रद्धालुओं की सेवा सबसे शानदार कदम है. 

उन्होंने कहा कि हम गत कई वर्षों से ऐसा कर रहे है और प्रयास करते हैं कि पूरी ईमानदारी से शिवभक्तों की सेवा करे. कावड़ यात्रा में शामिल शिवभक्त भी इस सेवा से प्रसन्न हैं. उनका मानना है कि इस तरह के प्रयासों से आपसी भाईचारा बढ़ता है और यही हमारे देश की संस्कृति है.

दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाखिल, 10 हज़ार से अधिक के कैश ट्रांजेक्शन पर लगे रोक

केंद्र सरकार ने नौकरशाही में किया बड़ा फेरबदल

GII सूचकांक में भारत ने सुधारी अपनी रैंकिंग