मुस्लिम युवक बरकत के साथ नहीं हुई थी मारपीट, लिखवाई थी झूठी रिपोर्ट

May 28 2019 03:55 PM
मुस्लिम युवक बरकत के साथ नहीं हुई थी मारपीट, लिखवाई थी झूठी रिपोर्ट

गुरुग्राम: साइबर सिटी गुरुग्राम में एक बार फिर सामने आए हिंदू-मुस्लिम विवाद में नया ट्विस्ट आया है. मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस ने जांच आरंभ की और जांच में पाया कि मुस्लिम लड़के मोहम्मद बरकत के द्वारा लगाए गए सारे इल्जाम निराधार और सरासर झूठ निकले हैं. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाला तो पाया कि बरकत का एक लड़के के साथ मामूली विवाद हुआ था, किन्तु न पीड़ित की टोपी फेंकी गई और न ही बरकत की शर्ट फाड़ी गई.

लगभग डेढ़ मिनट से कम वक़्त की सीसीटीवी फुटेज को देखने के बाद स्पष्ट हो गया है कि एक मामूली से विवाद को किस प्रकार साम्प्रदायिक रंग देने का प्रयास किया जा रहा है. वहीं, शिकायत लिखवाने वाला पीड़ित युवक पुलिस की जांच के दौरान अपने बयानों से पलट गया. पूछताछ में उसने कहा है कि 5-6 नहीं केवल एक लड़के से मामूली विवाद हुआ था. 

आपको बता दें कि गुरुग्राम में शनिवार रात नमाज पढ़कर लौट रहे एक युवक ने आरोप लगाते हुए कहा था कि उसके साथ 5-6 लड़कों ने टोपी पहने होने के कारण झगड़ा किया था और उसकी टोपी फेंक दी थी. बरकत के अनुसार लड़कों ने उससे जबरदस्ती जय श्रीराम और भारत माता की जय के नारे लगाने के लिए बोल रहे थे और इंकार करने पर उसके साथ जमकर मारपीट की गई थी.

राहुल गाँधी की कांग्रेस नेताओं को दो टूक, एक महीने में ढूंढ लो मेरा विकल्प

पीएम मोदी के शपथ ग्रहण में नहीं बुलाए जाने से बौखलाया पाक, दिया ऐसा बयान

पश्चिम बंगाल में दीदी की खिसकता जमीन, भाजपा में शामिल होने दिल्ली पहुंची 20 TMC पार्षद