घड़ी बनाने पर मुस्लिम लड़का गिरफ्तार, ओबामा ने किया समर्थन

घड़ी बनाने पर मुस्लिम लड़का गिरफ्तार, ओबामा ने किया समर्थन

ऑस्टिन : अमेरिका के टेक्सास में घड़ी बनाकर स्कूल लाने वाले एक 14 साल के मुस्लिम स्टूडेंट को गिरफ्तार करने के बाद बवाल मच गया. घटना डलास काउंटी के इरविंग शहर का रहने वाला अहमद मोहम्मद नाम का एक स्टूडेंट सोमवार को डिजिटल घड़ी बनाकर स्कूल ले गया था. लेकिन कुछ ही देर बाद उसे टेक्सास पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और घड़ी के बारे में पूछताछ की. हालांकि, बाद में उसे छोड़ दिया गया. स्कूल अथॉरिटी ने भी बच्चे को 3 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया है. मामला सामने आने के बाद अमेरिकी प्रेसिडेंट बराक ओबामा और मार्क जुकरबर्ग जैसी बड़ी हस्तियों ने बच्चे का सपोर्ट किया है.

अहमद इरविंग के मैकआर्थर हाई स्कूल में पढ़ता है. अहमद ने बताया कि स्कूल में इंजीनियरिंग प्रोजेक्ट के तहत वो घड़ी बनाकर स्कूल ले गया था. स्कूल में एक साइंस टीचर ने उसकी तारीफ भी की थी. बुधवार को अहमद के फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं. इसके बाद #IStandWithAhmed टॉपिक ट्रेंड करने लगा. कई यूजर्स ने इस मामले को 'इस्लामोफोबिया' बताया. 

अहमद ने बताया कि जब वो घड़ी का डेमो दे रहा था तो इसी दौरान दूसरी टीचर ने घड़ी में बीप की आवाज सुनी और पुलिस बुला ली. उन्हें लगा कि यह एक बम है. इसके बाद पुलिस ऑफिसर्स उसे हथकड़ी पहनाकर जुवेनाइल सेंटर ले गए और उससे पूछताछ की और उसके फिंगरप्रिंट भी लिए गए.

मामले के तूल पकड़ने के बाद अमेरिकी प्रेसिडेंट बराक ओबामा ने 2 दिन बाद अहमद के सपोर्ट में ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, "शानदार घड़ी, अहमद। इसे व्हाइट हाउस लाना चाहोगे? हमें तुम जैसे अन्य बच्चों को भी साइंस के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए. इसी वजह से अमेरिका महान है." इसके कुछ ही देर बाद टेक्सास पुलिस ने स्टेटमेंट जारी कर कहा कि अहमद के खिलाफ क्रिमिनल चार्ज नहीं लगाए जाएंगे.