मुश्ताक अहमद ने किया खुलासा, बताया- क्यों 2012 में इंग्लैंड को मिली थी भारत में जीत

2011 की विश्व कप विजय के बाद महेंद्र सिंह धोनी को नेतृत्व में भारत इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर लगातार आठ टेस्ट मैच हारा. 2012 में इंग्लैंड ने भारत का दौरा किया. इस दौरे पर एलियेस्टर कुक इंग्लैंड के कप्तान थे. भारतीय टीम ने इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच जीता. अहमदाबाद में पहला टेस्ट हारने के बाद इंग्लैंड ने मुंबई टेस्ट (10 विकेट से) और कोलकाता टेस्ट 7 विकेट से भारत को हराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली. नागपुर टेस्ट ड्रॉ रहा. यह 27 सालों में इंग्लैंड की भारत में पहली टेस्ट सीरीज जीत थी. 2012 की इस टेस्ट जीत के कारण का खुलासा मुश्ताक अहमद ने किया है.

इस सीरीज में इंग्लैंड के स्पिनरों ग्रीम स्वान और मोंटी पनेसर ने सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा जैसे बल्लेबाजों को ध्वस्त कर दिया. इस सीरीज जीत के बाद इंग्लैंड के स्पिन कोच रहे मुश्ताक अहमद ने इस सीरीज के जीतने के कारणों के बारे में बताया है. मुश्ताक 2008 से इंग्लैंड के सपोर्ट स्टाफ में शामिल थे.उन्होंने कहा, 'भारत का फोकस जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और स्टीव फिन से निबटने का था. टीम इंडिया की इसी प्लानिंग ने मोंटी पनेसर और ग्रीम स्वान को जादू करने का अवसर दिया. उन्होंने कहा किसी भी भारतीय बल्लेबाज ने इंग्लैंड के स्पिनरों को स्वीप करने की कोशिश नहीं की. केवल सचिन तेंदुलकर ने यह काम किया.

उन्होंने कहा, 'विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी दोनों परंपरागत शॉट्स खेल रहे थे.' मुश्ताक ने कहा, '2012 में हम सीरीज जीते, क्योंकि हमें पता था कि फील्ड कैसे सैट किया गया है, किस गति पर गेंद फेंकनी है. विराट और धोनी गेंद को स्वीप नहीं कर रहे थे. केवल सचिन ही ऐसा कर रहे थे. भारत का फोकस इंग्लैंड के सीमर्स को फेस करना था, लेकिन स्पिनरों ने उन्हें हैरान कर दिया.' ग्रीम स्वान ने 4 टेस्टों में 19 विकेट लिए जबकि मोंटी पनेसर ने तीन टेस्ट मैचों में 17 विकेट लिए. पनेसर ने मुंबई के दूसरे टेस्ट में कुल 11 विकेट लिए. मुश्ताक ने कहा, 'स्वान और पनेसर इस सीरीज में आर अश्विन और प्रज्ञान ओझा से ज्यादा सफल रहे.'

इस खिलाड़ी की पत्नी का डांस वीडियो हुआ वायरल

स्टीव स्मिथ ने पहले लगाई 21.10 किमी की दौड़, फिर बताई यह खास वजह

बेहद कठनाईयों से भरी थी इस क्रिकेटर की लव लाइफ, जानें पूरी बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -