मुरली मनोहर ने कहा सरकार के कदम लाऐंगे अर्थव्यवस्था में बदलाव

नई दिल्ली : केंद्र सरकार द्वारा देशभर में 500 और 1000 रूपए के नोटों को चलन से बाहर किए जाने के बाद हलचल मची हुई है। कुछ लोग बैंक्स खुलने का इंतजार कर रहे हैं तो कुछ लोग बाजारों में अपने पास मौजूद 500 रूपए और 1000 रूपए के नोटों को खपाने में लगे हैं। इस दौरान बाजार में दुकानदारों के पास बड़े पैमाने पर 500 रूपए और 1000 रूपए का जमावड़ा हो गया है।

तो दूसरी ओर संभवना जताई जा रही है कि अगले दो दिनों में बाजार में खुल्ले पैसे की किल्लत हो सकती है। इसी बीच सरकार के निर्णय पर तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। सोश्यल मीडिया पर भी कई तरह की कमेंट्स पढ़ने को मिल रही हैं। ट्विटटर, फेसबुक और अन्य सोश्यल मीडिया माध्यम केेंद्र सरकार के निर्णय को लेकर जानकारियों से पटे हुए हैं।

इसी बीच राजनीतिक हलकों में लोगों के बीच 500 रूपए और 1000 रूपए के नोटों को बंद किए जाने पर प्रतिक्रियाऐं दी जा रही हैं। इस मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी ने टिप्पणी की है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार के इस कदम से अर्थव्यवस्था में बड़ा बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि यह सभी के लिए सकारात्मक होगा और अर्थव्यवस्था पर इसका अच्छा असर होगा। उन्होंने काले धन की समाप्ति के संकेत भी दिए। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -