गुजरात दंगे के आरोपी की सरेआम हत्या, पैरोल पर आया था जेल के बाहर

May 03 2021 10:52 AM
गुजरात दंगे के आरोपी की सरेआम हत्या, पैरोल पर आया था जेल के बाहर

अहमदाबाद: गुजरात दंगों के मामले में जेल की सजा काट रहे एक अपराधी की अहमदाबाद में दो लोगों द्बारा हत्या कर दी गई है. ये मामला लेनदेन से सम्बंधित एक रंजिश का बताया जा रहा है. गुजरात दंगों में अपराधी कालू ठाकोर नरोदा पाटिया हिंसा मामले में सजायाफ्ता था, हाल ही में वो पैरोल पर बाहर आया था. किन्तु रविवार के दिन पैसे के लेनदेन से सम्बंधित एक मामले में दो लोगों ने उसकी एक धारधार हथियार से वार कर हत्या कर दी.

नरोदा पुलिस स्टेशन पुलिस ने बताया है कि इन दोनों आरोपियों को ही पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है. ये घटना कृष्णानगर चौराहे के पास शनिवार रात की है. नरोदा पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर परेश खंबाला (Paresh Khambhala) ने बताया कि, ''ठाकोर का इन दो हत्यारोपियों के साथ पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद था. हत्या की घटना की खबर मिलने के बाद हमने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. इनमें से एक नाबालिग है. एक अपराधी की शिनाख्त कमलेश चुनारा के रूप में हुई है.

बता दें कि ठाकोर पर उस भीड़ में शामिल होने का आरोप है जिसने 97 निर्दोष लोगों को मार डाला था, इनमें अधिकतर अल्पसंख्यक समुदाय के लोग थे. ये घटना अहमदाबाद के नरोदा पाटिया नामक स्थान पर साल 2002 की 28 फरवरी के दिन घटित हुई थी, यानी कि गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस में आग लगाए जाने की घटना के ठीक एक दिन बाद, जिसमे 59 निर्दोष हिन्दू मारे गए थे.

ECLGS के लिए आतिथ्य क्षेत्र ने सरकार को दिया बढ़ा झटका

रेलवे को रेल की आपूर्ति के लिए केंद्र ने रिवर्स नीलामी प्रणाली की शुरू

रिज़र्व बैंक, बैंकों, एनबीएफसी के जोखिम-आधारित पर्यवेक्षण की समीक्षा की