तेलंगाना में आपसी बहस में चचेरे भाई की हत्या

Jul 21 2019 04:05 PM
तेलंगाना में आपसी बहस में चचेरे भाई की हत्या

नालगोंडाः तेलंगाना के नालगोंडा जिले से एक विभत्स हत्या की घटना सामने आई है। इस घटना में दो भाइयों ने आपसी बहस में किसी बात को लेकर अपने ही चचेरे भाई की गला रेत कर हत्या कर दी। इसके बाद दोनों मृतक का कटा हुआ सिर लेकर नामपल्ली पुलिस थाने पहुंचे और आत्मसमर्पण कर दिया। यह घटना तेलंगाना के नालगोंडा जिले के नामपल्ली में घटित हुई। आरोपियों ने घटना को सड़क पर भरी दोपहर में अंजाम दिया गया।

शाम के करीब छह बजे पेशे से बाइक मैकेनिक मोहम्मद घोसे (22) और कार ड्राइवर इरफान (22) की अपने चचेरे भाई शेख सद्दाम के साथ रजिया के बच्चों की देखभाल न करने को लेकर बहस हो गई। रजिया पीड़ित और आरोपियों की रिश्तेदार थी। वहीं सद्दाम भी पेशे से कार ड्राइवर था। जब सद्दाम ने बच्चों की जिम्मेदारी उठाने से मना कर दिया तो घोसे ने गुस्से में आकर पास के नारियल पानी वाले से चाकू लिया और उससे सद्दाम की गर्दन पर हमला करना शुरू कर दिया।

बाद में इरफान ने घोसे से चाकू लिया और उसने भी पीड़ित पर कई वार किए। पुलिस ने बताया कि लगातार हमलों की वजह से सिर धड़ से अलग हो गया। दोनों आरोपियों ने धड़ को सड़क पर छोड़ दिया और सिर लेकर पास के पुलिस स्टेशन पहुंच गए। नालगोंडा जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पद्मानभा रेड्डी ने बताया कि, 'रजिया विधवा थी और उसके दो बच्चे हैं। उसके सद्दाम के साथ कथित तौर पर संबंध थे।

जिसके बाद वह उसे लेकर हैदराबाद आया और सरूरनगर के एक घर में उसकी नौकरी लगवा दी। अपने कथित शोषण की वजह से रजिया ने 2017 में आत्महत्या कर ली। इस संबंध में सरूरनगर में एक मामला दर्ज है। उसकी मौत के बाद सद्दाम ने बच्चों की देखभाल की जिम्मेदारी उठाने का वादा किया था। हालांकि पिछले दो सालों से वह उन्हें नजरअंदाज कर रहा था। जिसके कारण दोनों आरोपियों के मन में सद्दाम के खिलाफ गुस्सा था।'

झारखण्ड: डायन बिसाही के शक में चार लोगों की हत्या, इलाके में दहशत

पुलिस स्टेशन के पास भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या, मचा हड़कंप