टीम में चयन से खुश हैं मुरली विजय

भारत-श्रीलंका टेस्ट सीरीज के पहले मैच में अंतिम एकादश में मुरली विजय को नहीं चुना गया था, जिस पर कई सवाल खड़े हो गए थे. लेकिन विजय ने अपने चयन के लिए चुनौतीपूर्ण हालात को स्वीकार कर लिया है. विजय कलाई के फ्रेक्चर के कारण भारतीय टीम से बाहर थे और अब कोलकाता में श्रीलंका के खिलाफ मैच के दौरान वापसी की है.

उल्लेखनीय है कि मुरली विजय ने श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन 128 रन की पारी खेली है. विजय ने कहा कि ''मुझे लगता है कि पेशेवर होने के नाते आपको हमेशा ही तैयार रहना चाहिए, भले ही आपको मौका मिलता है या नहीं. आपको अंदर से तैयार रहना चाहिए, मौके पर निगाह बनाये रखिये, इसलिए जब भी आपको मौका मिले, आपको कम से कम मानसिक रूप से तैयार रहना चाहिए. आपको पूरी तरह वाकिफ रहना चाहिए कि क्या हो रहा है और क्या होने जा रहा है.''

विजय ने बताया कि ''यह मुश्किल है लेकिन मैं अब इसका आदी हो गया हूं. मैं सिर्फ योगदान करना चाहता हूं, जब भी आपको भारत के लिए खेलने के मौका मिले. जब तक अपनी जगह मैं खुश हूं और सहज हूं, मुझे इससे निपटना नहीं पड़ेगा. मैं ऐसा ही होना चाहता हूं और अगर मैं इसे निरंतर हासिल करता हूं तो मुझे लगता है कि मैं अपना काम अच्छी तरह कर रहा हूं.'' 

अश्विन ने किया श्रीलंकाई बल्लेबाज को 12 बार आउट

टीम के प्रदर्शन से खुश नहीं पोथास

IND-SL नागपुर टेस्ट: पहली पारी में 205 पर ढेर हुई श्रीलंका, भारत 7-0

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -