वीडियो: निधन के पहले अपने अनुयाइयों को आशीर्वाद देते मुनि तरुण सागर

Sep 03 2018 02:46 PM

नई दिल्ली: 51 वर्षीय जैन मुनि तरुण सागर ने लम्बी बीमारी के बाद शनिवार को दिल्ली के जैन मंदिर में देहत्याग कर दिया, जानकारी के मुताबिक, वह लंबे समय से बीमार थे इसके चलते उन्हें वैशाली के एक अस्पताल में भर्ती भी कराया गया था, हालांकि, कुछ दिन पहले उन्होंने कृष्णा नगर के राधापुरी मंदिर आने का फैसला किया था जहां शनिवार सुबह करीब 3:18 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. निधन के पहले का उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमे वे अपने अनुयायियों को अंतिम दर्शन और आशीर्वाद देते दिखाई दे रहे है.

मुनि तरुण सागर का ये कैसा अंतिम संस्कार, नीलामी की तरह लगी बोलियां

तरुण सागर महाराज को अंतिम बार देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था,  इसमें जैन समाज के अलावा अन्य समुदाय के लोग भी भारी संख्या में मौजूद थे. उनका स्वस्थ्य ख़राब होने के कारण उन्हें उनके अनुयायियों द्वारा उनके कुर्सी पर बिठाकर लाया गया था, वीडियो में आप देख सकते हैं कि मुनि तरुण सागर की हालत कितनी नाज़ुक दिख रही है, डॉक्टरों द्वारा जवाब देने के बाद मुनि ने संथारा प्रथा का पालन शुरू कर दिया था, जिसके तहत उन्होंने अन्न-जल का त्याग कर दिया था. 

जैन मुनि तरुण सागर का निधन : राजनेताओं ने इस तरह दी श्रद्धांजलि

जैन मुनि तरुण सागर जी महाराज का अंतिम संस्कार शनिवार दोपहर जैनियों के तमाम रीती-रिवाजों के साथ मुरादनगर के सैंथली गांव में किया गया. सैंथली में तरुण सागर तीर्थ स्थल का निर्माण चल रहा है, इस निर्माणाधीन तीर्थ स्थल में ही महाराज की समाधि स्थल बनेगा. उनकी अंतिम यात्रा में भी लोगों का सैलाब देखने को मिला, जहां-जहां से उनकी अंतिम यात्रा निकली वहां लंबा जाम लग गया, यात्रा के साथ पैदल चल रहे हजारों की संख्या में लोग रोते-बिलखते दिखाई दिए. 

खबरें और भी:-​

जैन मुनि तरुण सागर का निधन : विवादों से भी रह चुका है नाता

इस संगीतकार ने मुनि तरुण सागर पर की थी अभद्र टिप्पणी

मुनि तरूण सागर जी 'अच्छे दिन' को लेकर कही थी यह बात

?