मुंबई: साकीनाका दुष्कर्म पीड़िता की हालत गंभीर, पूरे महाराष्‍ट्र में आक्रोश

मुंबई: महाराष्‍ट्र की राजधानी मुंबई के उपनगर साकीनाका में बीते शुक्रवार को एक ऐसी घटना हुई कि सभी के होश उड़ गए। जी दरअसल यहाँ एक टेंपो के अंदर एक महिला के साथ दुष्कर्म किया गया और इसी के साथ ही उसके प्राइवेट पार्ट में लोहे की छड़ से भी हमला किया गया। बताया जा रहा है साकीनाका इलाके में हुए इस बलात्कार की 34 वर्षीय पीड़िता की हालत दूसरे दिन यानि आज शनिवार को भी गंभीर बनी हुई है। मिली जानकारी के तहत पीड़िता मुंबई के एक सिविल अस्पताल में बेहोश है। इस पूरी घटना से पूरे राज्य में आक्रोश फैल गया है।

पुलिस का कहना है महिला के साथ दुष्कर्म किया गया और फिर उसे डंडे से पीटा गया। इसके बाद आरोपी ने क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए उसके प्राइवेट पार्ट में लोहे की छड़ डाल दीं। पुलिस का कहना है उसके साथ बलात्कार किया गया और उसके निजी अंगों में लोहे की छड़ से हमला किया गया। बताया जा रहा है आरोपी ने वहां से जाने से पहले उसे मरा हुआ समझकर सुनसान सड़क पर फेंक दिया, हालाँकि इस घटना के कुछ ही घंटों के भीतर आरोपी मोहन चव्हाण को गिरफ्तार कर लिया गया। इस घटना को उत्तर-पश्चिम मुंबई के साकीनाका इलाके के खैरानी रोड की बताई जा रही है।

यह गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात को हुई और पुलिस ने शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे उसे खून से लथपथ बरामद किया। अब पुलिस दल महिला के होश में आने का इंतजार कर रहे हैं ताकि वह अपना बयान दर्ज करवा सके। वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र विधान परिषद की उपाध्यक्ष नीलम गोरहे, शिवसेना प्रवक्ता मनीषा कायंडे, कई महिला कार्यकर्ताओं और आम लोगों ने कड़ी निंदा की, जिनमें से कई ने शक्ति अधिनियम को तत्काल पारित करने की मांग की, जिसमें दुष्कर्म के लिए मौत की सजा का प्रस्ताव है। इस मामले में वाहन के अंदर भी खून के धब्बे मिले हैं। वहीं अब लोग महिला के लिए न्याय की गुहार लगा रहे हैं।

महाराष्ट्र के इन जिलों में अगले 3-4 दिन तक होगी जोरदार बारिश

मुंबई में 'निर्भया' जैसा कांड, महिला का बलात्कार कर प्राइवेट पार्ट में डाल दी रॉड

ऐसे महान स्वतंत्रता सेनानी जिन्होंने 1000 गांव लेकर भूमिहीनों में बाँट दी जमीन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -