कोरोना: जमातियों ने फिर बढ़ाई प्रशासन की टेंशन, 22 दिनों तक मुंबई में किया ये काम

मुंबई: देश की आर्थिक राजधानी मानी जाने वाली मुंबई में कोरोना वायरस से स्थिति भयावह होती जा रही है। इस वायरस के कारण मुंबई में अब तक 219 लोगों की जान जा चुकी है और कोरोना मरीजों की तादाद 5,589 पहुंच गई है। इस बीच तबलीगी जमात लिंक ने फिर से प्रशासन की टेंशन बढ़ा दी है। दरअसल, प्रशासन ने कुछ जमातियों को अरेस्ट किया गया है, वे मुंबई के धारावी समेत कई इलाकों में घूमते पाए गए।

ये सभी दिल्ली (Delhi) के निजामुद्दीन मरकज में आयोजित की गई तबलीगी जमात (Tablighi jamat) में शामिल हुए थे। इस मामले में मुंबई पुलिस ने सोमवार को 12 में 10 इंडोनेशिया के नागरिकों को अरेस्ट करके जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है। ये सभी दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में आयोजित हुई तबलीगी जमात में हिस्सा लेने के बाद सभी 23 मार्च को मुंबई पहुंचे थे। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया है कि सभी 12 जमाती मुंबई आने के बाद पश्चिम ब्रांदा के एक अपार्टमेंट में 29 मार्च से ठहरे हुए थे।

पुलिस ने बताया कि इनमें छह महिलाएं और छह पुरुष थे। पुलिस ने सभी को दबोचने के बाद एक होटल के क्वारंटाइन सेंटर में रखा था। 12 में दो जमाती कोरोना संक्रमित पाए गए थे। पॉजिटिव मिले दोनों जमातियों को अस्पताल में एडमिट कराया गया था, जिनकी क्वारंटाइन अवधि 8 मई को पूरी होगी।

Mutual Funds में RBI ने फूंकी जान, किया बड़ी आर्थिक मदद का ऐलान

लॉकडाउन में भी फीकी नहीं पड़ी अक्षय तृतीया की चमक, बिका इतने करोड़ का सोना

वधावन बंधुओं की मुश्किलें बढ़ीं, CBI ने हिरासत में लिया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -