मुंबई: चर्च में घुसकर दाऊद अंसारी ने क्रॉस उखाड़ा, कब्रें तोड़ीं.., अब हुआ गिरफ्तार

मुंबई: चर्च में घुसकर दाऊद अंसारी ने क्रॉस उखाड़ा, कब्रें तोड़ीं.., अब हुआ गिरफ्तार
Share:

मुंबई: मुंबई के सेंट माइकल चर्च में शनिवार (7 जनवरी) को 18 कब्रें और उन पर लगे क्रॉस तोड़ने वाले दाऊद अंसारी को माहिम पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। पुलिस ने दाऊद को उसके चाचा के घर से रविवार को (8 जनवरी) पकड़ा है। चर्च प्रशासन द्वारा पुलिस को घटना की CCTV फुटेज उपलब्ध कराए जाने के बाद से दाऊद की तलाश की जा रही थी।

 

DCP मनोज पाल ने जानकारी दी है कि, पुलिस ने कालंबोली के रहने वाले दाऊद अंसारी को अररेस्ट किया है। उसने चर्च की कब्रों में तोड़फोड़ की थी। वह अपने चाचा के साथ नवी मुंबई में गद्दों की दुकान पर काम करता है। हालाँकि, उसने ऐसा क्यों किया इसका पता नहीं चल सका है। सेंट माइकल चर्च के पादरी फादर लैंसी पिंटू ने बताया है कि, 'तोड़फोड़ की यह घटना सुबह 5 बजे के लगभग की है। चौकीदार ने ये बाद में देखा। सुबह चर्च में भीड़ होती है, इसलिए मुझे भी घटना का पता लगभग 8:30 बजे चला। इसके बाद तत्काल पुलिस को सूचित  किया गया।'

रिपोर्ट के मुताबिक, ये चर्च 400 साल पुराना है और इसके परिसर में कब्रगाह भी उसी समय की बनी हुई है। पुलिस का कहना है कि ये मामला संगीन है, क्योंकि इसमें धार्मिक एंगल भी है। वह लोग घटना के पीछे की मंशा पता करने की कोशिश कर रहे हैं। CCTV फुटेज के अनुसार, अंसारी चर्च में सुबह 5:30 बजे घुसा। जब प्रार्थना शुरू हुई तो वो बाहर आ गया और उसने कब्रगाह में बड़ा पत्थर उठाकर लगभग 18 कब्रें तोड़ डाली। इसके बाद वह चर्च में पहुंचा और वहाँ उसे अपना बस्ता नहीं मिला तो, उसने इसकी शिकायत सुरक्षाकर्मियों से की।

वॉचमैन जब उसका बस्ता ढूंढ रहा था, तभी उन्हें कब्रगाह में हुई तोड़फोड़ के बारे में पता चला। शक होने पर अंसारी को पकड़ा गया। चर्च प्रशासन ने पुलिस को सूचित किया। मगर उस वक़्त अंसारी किसी तरह वहाँ से फरार हो गया। बाद में पुलिस ने CCTV देख उसे खोजा और  गिरफ्तार किया। पुलिस का कहना है कि अंसारी ने ये सब जानबूझकर किया है। इस बीच मिड डे की रिपोर्ट में पुलिस सूत्रों के हवाले से दाऊद को मानसिक बीमार बताया गया है। रिपोर्ट में यह भी दावा है कि पुलिस ने कहा है कि आरोपित अपनी अम्मी के इंतकाल के बाद से तनाव में था और उसने ईश्वर में विश्वास करना बंद कर दिया था। हालाँकि, इससे ये सवाल भी उठता है कि, यदि अंसारी ने ईश्वर में विश्वास करना बंद कर दिया था, तो वो चर्च में आया ही क्यों ?

बिहार में अपराधी बेख़ौफ़, युवक को घर से बाहर बुलाकर गोलियों से भूना, मौत

पत्नी से हैवानियत करने के बाद भी नहीं भरा पति का मन, तो किया ये दरिंदों वाला काम

सड़क पर टहल रहे युवक को ट्रैक्टर ने मारी टक्कर, हुई मौत

 

रिलेटेड टॉपिक्स
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -