मुल्ला मंसूर ने की अफगान सरकार से अमेरिकी फौज को हटाने की मांग

Sep 23 2015 02:36 PM
मुल्ला मंसूर ने की अफगान सरकार से अमेरिकी फौज को हटाने की मांग

काबुल : अफगानिस्तान में शांति बहाली को लेकर तालिबान के नए कमांडर मुल्ला मंसूर ने कहा कि देश में शांति कायम करने के लिए यह जरूरी है कि अमेरिका और अफगानिस्तान सरकार के बीच हुए समझौते को रद्द कर दिया जाए। यही नहीं विदेशी सेनाओं को अफगानिस्तान से बाहर करने की मांग भी की गई है। विदेशी शक्तियों की उपस्थिति और इन सेनाओं द्वारा चलाए जा रहे अभियानों के कारण अफगानिस्तान में शांति स्थापित नहीं हो पा रही है।

मुल्ला मंसूर ने यह भी कहा कि यदि सरकार युद्ध विराम चाहती है तो उसे अमेरिकी फौजों को अफगानिस्तान से हटाना होगा। मुल्ला मंसूर ने कहा कि अमेरिका और अफगानिस्तान के बीच हुए सैन्य करारों को रद्द करना होगा और अफगानिस्तान से सभी विदेशी कब्जों को समाप्त करना होगा। दरअसल मुल्ला मंसूर, मुल्ला उमर के बाद तालिबान का नया कमांडर बन गया है। उसने तालिबान में आपसी फूट से इंकार किया है। उसका कहना है कि तालिबान का बुरा चाहने वाले मुजहाहिदीन के बीच फूट होने की बात कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका और अफगानिस्तान की सरकार के बीच समझौता हुआ जिसके तहत तालिबान प्रेरित आतंकवाद का सामना करने के लिए करीब 13 हिजार जवानों को अफगानिस्तान में तैनात किया गया है। वैसे अमेरिका कुख्यात आतंकी ओसामा बिन लादेने के नेतृत्व में अमेरिका के वल्र्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले के बाद से ही अफगानिस्तान में सैन्य अभियान चलाकर आतंकवाद के खात्मे का प्रयास कर रहा है।