मुलायम को उत्तर प्रदेश बचाने की दी गई ताकीद

लखनऊ : बिहार चुनाव के समीप आते-आते यहां चुनावी समर तेज होता जा रहा है। यहां राजनीतिक शतरंज की बिसात पर मोहरों की चाल बदलती जा रही है। हालात ये है कि गठबंधनों में जोड़- तोड़ का क्रम जारी है। कोई किसी गठबंधन को कमजोर बनाने में लगा है तो कोई अपना राजनीतिक अस्तित्व ही संजोकर रखना चाहता है। जी हां, मिली जानकारी के अनुसार यह बात सामने आई है कि सपा प्रमुख को उनके पार्टी सदस्यों ने जनता परिवार के एवज में अपनी पार्टी की साख न खोने की ताकीद की है। इस दौरान कहा गया है कि भाजपा और बसपा को उत्तरप्रदेश में हराने को लेकर सपा को तैयारी में लगना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि यहां वर्ष 2017 में चुनाव होने हैं। जबकि सपा बिहार में अपनी संभावनाऐं और ताकत बढ़ाने में लगी है। सपा  नेता रामगोपाल यादव और मंत्री मोहम्मद आजम खान ने कहा कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा को फोकस करना होगा। इस दौरान सपा के वरिष्ठ नेताओं ने मुलायम सिंह यादव से जनता परिवार में शामिल न होने की बात पहले ही कही थी। दूसरी ओर माना जा रहा है कि यदि पार्टी ने अपनी योजना और रणनीति पर ध्यान नहीं दिया तो वह उत्तर प्रदेश में भी हार सकती है। ऐसे में उसे उत्तर प्रदेश पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -