गर्लफ्रेंड के पिता-भाई ही नहीं, 3 और हत्या करने वाला था मुकुल, खुद किया चौंकाने वाला खुलासा

गर्लफ्रेंड के पिता-भाई ही नहीं, 3 और हत्या करने वाला था मुकुल, खुद किया चौंकाने वाला खुलासा
Share:

जबलपुर: मध्य प्रदेश के जबलपुर में हुए डबल मर्डर केस के आरोपी मुकुल सिंह ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है. अपराधी से जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने जो खुलासे किए उससे सुनकर सभी की रूह कांप गई. अपराधी ने दो नहीं 5 हत्या करने की योजना बनाई थी तथा बदले की आग उसके सीने में सुलगती रहे इसी कारण उसने सीने में 5 नरमुंडो वाला टैटू भी बनवाया था. छेड़छाड़ एवं पोक्सो एक्ट में जेल जाने के बाद मुकुल ने इस हत्याकांड का षड्यंत्र रचा था. दरअसल अपराधी मुकुल राजकुमार विश्वकर्मा की बेटी से मोहब्बत करता था. किन्तु, राजकुमार ने मुकुल के खिलाफ 2023 में बेटी के साथ छेड़छाड़ एवं गलत काम करने के मामले में FIR दर्ज करवा दी थी. सिविल लाइन पुलिस ने बेटी के नाबालिग होने के कारण मुकुल पर छेड़छाड़ और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया था. फिर मुकुल को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था।

जेल के अंदर रहते हुए मुकुल के अंदर बदले की आग भभकती रही तथा बाहर निकलकर उसने अपने सीने पर पांच नरमुंड वाला एक शैतानी टैटू बनवाया. सीने में टैटू बनवाने का मकसद था कि वह बदले की आग बरकरार रख सके. मुकुल ने जेल में रहते हुए उन 5 लोगों को जान से मारने की योजना बनाई थी जो उसके प्यार के बीच आ रहे थे तथा उसके जेल जाने का कारण बने थे. पुलिस ने बताया, उसका पहला टारगेट प्रेमिका का पिता ही था. मुकुल को लगता था कि राजकुमार ने उसके खिलाफ झूठी शिकायत दर्ज कराई थी जिसके कारण उसे जेल जाना पड़ा था. मुकुल का दूसरा टारगेट प्रेमिका की एक महिला रिश्तेदार थी जो नाबालिग से बातचीत करने के लिए हमेशा से मना करती थी. महिला परिजन यदि बात करते हुए देख ले तो वह परिजनों से शिकायत कर देती थी. इसलिए मुकुल उसे भी रास्ते से हटाना चाहता था. मुकुल का तीसरा टारगेट उसके घर के सामने बनी बिल्डिंग में रहने वाला एक पड़ोसी था।

मुकुल ने पुलिस को बताया कि अक्सर वह पड़ोसी उसे टोकता था तथा जरा सी भी गलती करने पर वह मुकुल के पिता से शिकायत करता था. चौथा नंबर एक महिला सब इंस्पेक्टर का भी था जिसने रेप के मामले पर तहकीकात की थी. जिसके कारण मुकुल को सलाखों के पीछे रहना पड़ा था. पांचवा एवं अंतिम नंबर स्वयं नाबालिग प्रेमिका का था. मुकुल को डर था की प्रेमिका भी उसके खिलाफ बलात्कार के मामले में बयान दे सकती है. हालांकि जेल से निकलने के पश्चात जब उसका प्रेम प्रसंग फिर से आरम्भ हो गया, तो उसने प्रेमिका को मारने का ख्याल छोड़ दिया. 2 दिन पहले ही मुकुल की प्रेमिका को पुलिस ने हरिद्वार से पकड़ लिया. इसके पश्चात् से ही मुकुल को डर सता रहा था कि पकड़े जाने के बाद उसकी प्रेमिको पुलिस को कुछ गलत बयान न दे दे. मुकुल को लगा कि यदि ऐसा हुआ तो वह और भी अधिक उलझन में पड़ जाएगा. इसी कारण उसने आत्मसमर्पण कर दिया. कहा जा रहा है कि यह शैतानी दिमाग मुकुल के मन में साउथ की किलर फिल्म देखने के बाद आया है.

हार का डर, जवाब क्या देंगे..? एग्जिट पोल से कांग्रेस ने किया किनारा, अमित शाह ने कसा तंज

बंगाल में मतदान के बीच फिर खुनी खेल! TMC-ISF में चले देसी बम, उप्रद्रवियों ने EVM पानी में फेंकी

बिहार में सरेआम बदमाशों ने सोना-चांदी कारोबारी पर बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, इलाके में मची सनसनी

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -