मुकेश अंबानी ने अपने हुनर से व्यवसाय को पहुंचाया आसमान की बुलंदियों पर

By
Apr 19 2015 01:16 AM
मुकेश अंबानी ने अपने हुनर से व्यवसाय को पहुंचाया आसमान की बुलंदियों पर
style="text-align: justify;">मुकेश अंबानी एक भारतीय व्यवसायी हैं और लगभग 43 अरब डॉलर की निजी सम्पत्ती के साथ दुनिया के पांचवें सबसे अमीर आदमी हैं. वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक और कंपनी के सबसे बडे शेयर धारक हैं. यह भारत में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी तथा फोर्च्यून 500 कंपनी है.

रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी व्यक्तिगत हिस्सेदारी 48 % है. उनकी संपत्ति का मूल्य 43 अरब अमेरिकी डॉलर है, जिस से वे एशिया के सबसे अमीर आदमी साबित होते हैं. मुकेश का जन्म 19 अप्रैल, 1957 को यमन में हुआ था. 

मुकेश और उनके छोटे भाई अनिल रिलायंस इंडस्ट्रीज के संस्थापक स्वर्गीय धीरू भाई अम्बानी के बेटे हैं. मुकेश इंडियन प्रीमियर लीग की टीम मुंबई इंडियंस के मालिक भी हैं. 

शिक्षा - 

मुकेश अम्बानी की स्कूली शिक्षा अबाय मोरिस्चा स्कूल मुंबई में हुई तथा कैमिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री उन्होंने UDCT से प्राप्त की. बाद में मुकेश MBA करने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय गए किन्तु पहले वर्ष के बाद ही उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी. 

कैरियर - 

मुकेश अम्बानी ने 1981 में रिलायंस में काम संभाला और रिलायंस के पुराने ढर्रे के टेक्सटाइल कारोबार को पॉलिएस्टर फाइबर और फिर पेट्रोकेमिकल में आगे बढाया. इस प्रक्रिया में उन्होंने 60 नयी, विश्व स्तर की, विभिन्न तकनीकों से युक्त निर्माण सुविधाओं की रचना को निर्देशित किया, इससे रिलायंस की जो उत्पादन क्षमता 10 लाख से बढ़कर 1 करोड़ 20 लाख टन प्रतिवर्ष हो गयी. 

उन्होंने ने जामनगर, गुजरात में बुनियादी स्तर की विश्व की सबसे बड़ी पेट्रोलियम रिफायनरी की स्थापना की. वर्तमान में इसकी क्षमता 660,000 बैरल प्रति दिन है यानी 3 करोड़ 30 लाख टन प्रति वर्ष. मुकेश अम्बानी ने भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनियों में से एक रिलायंस कम्युनिकेशंस लिमिटेड को स्थापित किया. 

उपलब्धियां - 

NDTV द्वारा कराये गए सार्वजनिक चुनाव में साल 2007 के बिज़नसमैंन ऑफ़ द ईयर चुने गए. यूनाईटेड स्टेटस-इंडिया बिज़नस कौंसिल (USIBC) ने वाशिंगटन में 2007 में "ग्लोबल विज़न" के लिए लीडरशिप अवार्ड दिया गया.