मर जाओ या मार डालो, छठी का दूध याद दिला देगा मुसलमान : मुफ़्ती

Jan 19 2016 01:03 PM
मर जाओ या मार डालो, छठी का दूध याद दिला देगा मुसलमान : मुफ़्ती

मध्यप्रदेश (भोपाल) : हाल ही में मध्य प्रदेश में भड़की हिंसा की आग अभी ठंडी भी नही हुई थी की जमीयत उलेमा के उपाध्यक्ष मुफ्ती अब्दुर्रज्जाक ने सांप्रदायिक हिंसा को लेकर एक भड़काऊ बयान देकर नए विवाद को हवा दे दी है. एक तरफ तो राज्य में तनाव बरकरार है वही दूसरी तरफ मुफ्ती अब्दुर्रहमान ने मुस्लिमों से कहा कि कोई उनके घर की ओर आए तो मार डालो.

उन्होंने कहा, मैं पहले भी मुसलमानों से कह चुका हूं और एक बार फिर कहना चाहता हु की अगर उनके घर की तरफ कोई आंख उठाकर भी देखे, चोरी करे, आतंकवाद आए तो इतना मारो, की मर जाए. मुफ्ती अब्दुर्रज्जाक ने कहा कि जिस दिन मुसलमान बदल गया वह छठी का दूध याद दिला देगा. पत्रकारों से बात करते हुए मुस्लिम नेता ने नाराजगी जताई और कहा की हमने आपको बुलाया सब समझा दिया, अब हम मुसलमानों से कहेंगे. मैं बुड्ढा आदमी ज़रूर हु लेकिन मुझे मरने की परवाह नही है.

उन्होंने मुस्लिम समुदाय को उकसाते हुए कहा कि अपनी जान-माल की फिक्र ना करें. मर जाओ या मार डालो. लेकिन कोई आपको नुकसान ना पहुंचा पाए. उन्होंने यह भी कहा कि मुसलमान किसी की बहू-बेटियों पर बुरी नजर ना रखें, किसी के घर ना जाएं और ना ही किसी की ज्यादती को सहें.

आपको जानकारी देते चले की प्रदेश के धार जिले के मनावर कस्बे में दो गुटों के बीच हिंसक टकराव हो गया था. जिसके बाद मंगलवार शाम हिंसा भड़क गई. उग्र हुए लोगो ने वाहनो और दुकानो को आग के हवाले कर दिया. पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया है. साथ ही साथ इलाके में धारा 144 लागु कर दी गई है. हिंसा भड़काने के आरोप में पुलिस ने करीब 24 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया है.

वही दूसरी और राज्य के गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए है. गृह मंत्री के मुताबिक शौर्य जुलुस शांति पूर्ण निकल रहा था और फिर कुछ लोगों के पथराव करने के बाद ये स्थिति बनी. जिन लोगों ने गड़बड़ की थी उन पर कानूनी कार्यवाही की जा रही है.