मिटटी है सेहत के लिए लाभकारी

मिटटी है सेहत के लिए लाभकारी

मिट्टी में बड़ी ताकत होती है, और इसका उपयोग कई तरह के रोगों के इलाज में भी किया जाता है. तो चलिए जानें रोगों के इलाज में मिट्टी का उपयोग और उपयोग का तरीका क्या होता है.

1-'मिट्टी चाहे कोई सी भी किस्म की क्यों न हो लेकिन होनी साफ-सुथरी जगह की चाहिए जैसे जहां सूरज की रोशनी पहुंचती हो तथा जमीन से दो या ढाई फुट से निकाली हुई हो. हर मिट्टी को धूप में सुखाकर और छानकर इस्तेमाल करना सबसे अच्छा है. इसके अलावा दीमक के टीले की भुरभुरी मिट्टी भी बहुत गुणकारी होती है. नहाने, सिर धोने या तैलीय त्वचा के फेस पैक के लिए मुलतानी मिट्टी बहुत लाभकारी होती है.

2-मिट्टी में सोने से कई फायदे होते हैं. इससे नींद न आना, स्नायु की कमजोरी और खून की खराबी आदि रोग दूर होते हैं. इसके अलावा मिट्टी की मालिश-मिट्टी को शरीर पर अच्छी तरह से मलने से और शरीर पर लगाने से जहरीले तत्व शरीर से बाहर निकल जाते हैं. साबुन के स्थान पर शुद्ध मिट्टी लगाकर नहाने से कई प्रकार के रोगों में फायदा होता है. मिट्टी पर नंगे पैर चलने से गुर्दे के रोगों में आराम होता है, आंखों की रोशनी बढ़ती है और शरीर को चुम्बकीय शक्ति प्राप्त होती है. 

3-मिट्टी शरीर को ठंडक पहुंचाती है. यह तन की दुर्गंध और दर्द आदि को भी दूर करने वाली होती है. इसके अलावा यह शरीर को चुम्बकीय ताकत देती है जिससे उसमें चुस्ती-फुर्ती और ताकत आती है.

लिवर की समस्या है तो पियें ब्लैक...