मात्र 20 रु फीस, 20 रु की दवा.., वो वैद्य, जो जड़ी-बूटियों से कर रहा MS धोनी का इलाज

रांची: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपने घुटनों के दर्द का उपचार एक वैद्य से करवा रहे हैं। इस वैद्य का नाम वंदन सिंह खेरवार है। खेरवार के हवाले से मीडिया रिपोर्टों में बताया गया है कि दवा लेने के लिए खुद धोनी उनके आश्रम आते हैं। यह आश्रम झारखंड की राजधानी रांची से 70 किमी दूर लापुंग के जंगल में स्थित है।

वैद्य के मुताबिक, माही के शरीर में कैल्सियम की कमी है। इसके कारण उनके घुटनों में दर्द हो रहा है। उन्होंने बताया कि धोनी अब तक उनकी दवा की चार डोज़ ले चुके हैं। वैद्य ने बताया कि पिछली बार धोनी 26 जून 2022 को उनके पास आए थे। इससे पहले धोनी के माता-पिता भी इस वैद्य का उपचार ले रहे थे। लगभग चार माह तक धोनी के माता-पिता ने वैद्य की दवा खाई, जिसके बाद उनके घुटनों का दर्द ना के बराबर है। माता-पिता का सफल इलाज के बाद धोनी ने भी इस वैद्य की दवा खानी शुरू की है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, खुद धोनी गाड़ी चलाकर दवाई लेने वैद्य के पास जाते हैं। वैद्य ने बताया कि वह उपचार के लिए केवल 20 रुपए फीस लेते हैं और 20 रुपए में दवा देते हैं। करीब एक महीने से धोनी उनकी दवा खा रहे हैं। धोनी हर 4 दिन में दवाएं लेने उनके आश्रम आते हैं। वैद्य ने बताया है कि, 'यह दवा वह जंगल में मिलने वाली जड़ी-बूटियों से तैयार करते हैं। धोनी जब पहली बार मेरे पास आए तो मैं उन्हें पहचान ही नहीं सका। जब उनके साथ आए लोगों ने जब परिचय कराया, तो पता चला कि ये तो धोनी हैं, जिन्हें उन्होंने टीवी पर बल्ला घुमाते देखा है।'

वैद्य बताते हैं कि, 'धोनी जब भी यहाँ दवा लेने आते हैं, तो उनके साथ सेल्फी लेने के लिए लोगों की भीड़ लग जाती है। यही कारण है कि धोनी कई बार यहाँ आने पर गाड़ी से बाहर नहीं निकलते। उन्हें दवा गाड़ी तक पहुँचा दी जाती है। धोनी गाड़ी में बैठकर ही दवा पी लेते हैं। इसके साथ ही पूर्व कप्तान को कई बार गाँव वालों के साथ खुद मोबाइल पकड़कर सेल्फी खिंचवाते हुए भी देखा है।'

डेविस कप 2022 में 16-17 सितंबर को नार्वे से भिड़ेगा इंडिया

Ind Vs Eng: भारत के खिलाफ टेस्ट के लिए इंग्लैंड ने किया टीम का ऐलान, किए दो बदलाव

जर्मनी में हुई KL राहुल की सफल सर्जरी, जानिए कब तक रहेंगे क्रिकेट से दूर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -