यहाँ चाय पीने के बाद कप खा जाते हैं लोग, बड़ी दिलचस्प है वजह

आज के समय में कई लोग हैं जो सबसे अधिक चाय के शौक़ीन हैं। वैसे अगर आप भी इसी लिस्ट में शामिल हैं तो आज हम आपको एक ऐसे चायवाले के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके यहाँ चाय पीने के साथ लोग कप खा जाते हैं। जी हाँ, सुनकर आपको यकीन तो नहीं हो रहा होगा लेकिन यह सच है। जी दरअसल यह चायवाला आपको मिलेगा शहडोल जिला मुख्यालय की मॉडल रोड की सड़क के किनारे। यहाँ बनी इस चाय की दुकान का नाम है 'अल्हड़ कुल्हड़' (Alhad Kulhad)।

जी हाँ और इस दुकान के मालिक शहर के ही रहने वाले दो दोस्त है, जिनके नाम रिंकू अरोरा और पीयूष कुशवाहा है। इन दोनों ने साथ में चाय की इस दुकान को शुरू किया है। यह दोनों साथ के ही पढ़े हैं और ये उनका एक तरह का स्टार्टअप है। आप सभी को बता दें कि यहां वो जिस कप में चाय देते हैं, उसमें चाय के पीने के बाद खा लिया जाता है। जी दरअसल इन दोनों ने अपना स्लोगन भी दिया है- 'चाय पियो, कप खा जाओ' (Chai Piyo, Cup Kha Jao)। हालाँकि अब सवाल यह सामने आता है कि कोई भला कप कैसे खा सकता है? तो हम आपको बता दें, इस चाय की दुकान पर बिल्कुल खाया जा सकता है।

जी दरअसल, ये कप कांच, चीनी मिट्टी या प्लास्टिक का नहीं, बल्कि बिस्किट वेफर का बना होता है। यही वजह है कि आप इनकी दुकान पर चाय पीने के बाद उस चाय वाले कप को खा भी सकते हैं। वहीं इस कप चाय की क़ीमत महज़ 20 रुपये है। रिंकू अरोरा ने अपने इस कॉन्सेप्ट की खूबी बताते हुए एक वेबसाइट से बातचीत में कहा कि 'हम बिस्किट के कप में चाय परोस रहे हैं। ये पर्यावरण को बचाने के साथ-साथ शहर को कचरा मुक्त रखने में मदद करेगा।' अब इस समय इस दुकान के चर्चे हर जगह है।

कभी जमीन पर पैर नहीं रखता ये पक्षी, है महाआलसी

कनाडा में दिखी ऐसी लोमड़ी कि देखते रहे गए लोग

यहां दाह-संस्कार के बाद बची राख का सूप बनाकर पीते हैं लोग, वजह उड़ा देगी होश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -