पुनर्मतदान के लिए जिम्मेदार लोगों से वसूली को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने दिया ये बयान

भोपाल: मध्य प्रदेश के पंचायत चुनाव में पुनर्मतदान के लिए जिम्मेदार व्यक्तियों से वसूल करने को लेकर पूछने पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सरकार के पास इस सिलसिले में कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बूथ कैप्चरिंग करने वाले अपराधियों को जिला प्रशासन की ओर से जारी नोटिस कि पुनर्मतदान के खर्च वसूलने को लेकर भेजे नोटिस पर बोला कि निर्वाचन में पुनर्मतदान के जिम्मेदार व्यक्तियों से वसूली संबंधी कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है।

आपको बता दें लहार में SDM ने 4 अपराधियों को 5 लाख 2 हजार रुपए की वसूली का नोटिस जारी किया है। इन व्यक्तियों ने मतदान के दौरान मतपत्र लूट लिया था, जिसके बाद वहां दोबारा पुनर्मतदान करने का फैसला लिया गया। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ एवं दिग्विजय सिंह पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कमलनाथ एवं दिग्विजय सिंह दो ही जवान है। तत्पश्चात, कोई जवान है तो वह नकुलनाथ और जयवर्धन सिंह है। इसके बाद कोई जवान है तो वह दफ्तर के बाहर धरने पर बैठने के लिए यह है। यह लोग राजसुख भोगने और बाकी लोग धरी बिछाने के लिए जवान है।

नरोत्तम मिश्रा ने उदयपुर बार एसोसिएशन के कन्हैयालाल की हत्या के अपराधियों का केस नहीं लड़ने के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि समाज में भय एवं आतंक का वातावरण पैदा करने वाले लोगों के खिलाफ समाज का आगे आना निसंदेह स्वागत योग्य है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्यप्रदेश में पूरी तरह से शांति है। राजस्थान से लगी मध्य प्रदेश की सीमाओं पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उसी दिन अलर्ट जारी कर दिया था। अभी तक उदयपुर का मध्य प्रदेश से कोई कनेक्शन नहीं मिला है।साथ ही नरोत्तम मिश्रा ने सिंगरौली में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के मध्यप्रदेश दौरे का स्वागत करते हुए कहा कि मगर 5 दिनांक को उनका भ्रम टूट जाएगा। वहीं, देवेन्द्र फडणवीस के फैसला स्वागत योग्य हैं।

एकनाथ शिंदे पर उद्धव का बड़ा एक्शन, उठाया ये बड़ा कदम

CM से डिप्टी सीएम..., आखिर किसके कहने पर देवेंद्र फडणवीस ने ली शपथ ?

विधानसभा में सऊद आलम ने किया वंदे मातरम गाने से इनकार, मचा बवाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -