MP बना नई शिक्षा नीति लागू करने वाला पहला राज्य, CM यादव बोले- 'बच्चों को अच्छी शिक्षा देना हमारा फर्ज'

MP बना नई शिक्षा नीति लागू करने वाला पहला राज्य, CM यादव बोले- 'बच्चों को अच्छी शिक्षा देना हमारा फर्ज'
Share:

भोपाल: मध्य प्रदेश के सीएम मोहन यादव ने कहा है कि देश में बीते 10 वर्षों में शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ा बदलाव आया है. पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बच्चों को अच्छी शिक्षा देने की पूरी कोशिश की जा रही है. इसी क्रम में सीएम यादव ने कहा कि आज स्कूल चलें हम अभियान के तहत इस प्रवेश उत्सव कार्यक्रम में आकर आनंदित हूं. ये नन्हें मुन्ने ही कल के भविष्य हैं. सीएम डॉ. यादव भोपाल के शासकीय सुभाष उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे.

इसके चलते सीएम ने विद्यार्थियों की बनाए गए चित्रों की प्रदर्शनियों का भी अवलोकन किया. साथ ही अलग-अलग प्रतियोगी परीक्षाओं में उपलब्धियां हासिल करने वाले विद्यार्थियों का प्रशस्ति पत्र प्रदान कर उनको सम्मानित भी किया. सीएम डॉ. यादव ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश की शिक्षा व्यवस्था में क्रांतिकारी बदलाव हुआ है. नई शिक्षा नीति से बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की दिशा तय हो रही है. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश ने उच्च शिक्षा में सबसे पहले राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की है. हम पीएम की कल्पना के मुताबिक मध्य प्रदेश को नंबर वन रखना चाहेंगे.

इसके चलते उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में 369 सीएम राइज स्कूलों और पीएमश्री स्कूलों के माध्यम से बच्चों को मॉडर्न तरीके से शिक्षा दी जा रही है. सीएम राइज स्कूलों में फर्स्ट क्लास बिल्डिंग, स्मार्ट क्लास, डिजिटल टीचिंग, निशुल्क वाहन सुविधा, एक्सपोजर विजिट जैसे बहुत सारे संसाधन हैं. इसी के साथ उन्होंने कहा कि बाकी अन्य विद्यालयों को भी सभी आवश्यक आवश्यताएं पूरी की जा रही हैं. सीएम ने कहा कि जल्द ही भविष्य से भेंट कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इससे समाज के विभिन्न क्षेत्रों के प्रसिद्ध प्रभावशाली, प्रबुद्ध एवं सम्मानित व्यक्ति विद्यार्थियों से भेंटकर अपने-अपने अनुभवों को साझा करेंगे जिससे उन्हें बेहतर भविष्य बनाने की प्रेरणा प्राप्त हो सके. इस अभियान में जन प्रतिनिधि, संचार मित्र, सामाजिक कार्यकर्ता, सफल किसान, अभिनेता, कलाकार, खिलाड़ी, उद्योगपति, अधिकारी जुड़ेंगे.

'योग और बाजरे को बढ़ावा दें, ये शरीर और मन के लिए आवश्यक..', ग्राम पंचायतों के नाम पीएम मोदी का पत्र

पहले हिजाब फिर किताब..! कॉलेज में बुर्के की मांग लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट पहुंची मुस्लिम छात्राएं

पुस्तकों से हटा 'आज़ाद कश्मीर' का जिक्र, इंडिया बनाम भारत विवाद पर NCERT ने दिया ये जवाब

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -