डॉक्टर के इंजेक्शन लगाने के बाद मां-बेटे ने तोडा दम

फर्रुखाबाद : फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र के कुटरा मड़इयां में आरोप है कि डॉक्टर के इंजेक्शन के बाद नवजात बच्चे और मां की मौत हो गई. इसके बाद परिजनों ने डॉक्टर के क्लीनिक पर हंगामा किया .घटना की सुचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस डॉक्टर को अपने साथ कोतवाली ले गई. मड़इयां निवासी हरिओम ने बताया कि उसने अपनी प्रेग्नेंट पत्नी रुक्मिणी को हालत बिगड़ने पर भूसा मंडी स्थित बीएस राठौर के अस्पताल में एडमिट कराया.

डॉक्टर के पास कोई मानक डिग्री नहीं है. इसके बावजूद वह हर बीमारी का इलाज करता है. मृतका की बहन देवकी ने बताया कि डॉक्टर ने दर्द कम करने वाली दवाएं दीं और इंजेक्शन लगाए. इसके बाद उसकी हालत बिगड़ने लगी तो डॉक्टर ने उसे हॉस्पिटल ले जाने की सलाह दी. इस बीच उसकी पत्नी के मुंह से झाग निकलने लगा और लोहिया हॉस्पिटल ले जाते समय उसकी मौत हो गई. गर्भवती महिला की मौत पर परिजनों ने हॉस्पिटल में हंगामा मचा दिया .

इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और डॉक्टर को कोतवाली ले गई. थाने में डॉक्टर ने बताया कि रुक्मिणी में खून की कमी थी, इसीलिए उसकी मौत हो गई. डॉक्टर ने बताया कि उसके पास बीएचएमएस की डिग्री है. इसके बावजूद वह हर मर्ज का इलाज करता है. अपर पुलिस अधीक्षक राम भवन चौरसिया के मुताबिक डॉक्टर के इलाज के दौरान महिला की मौत होने की जानकारी मिली है। इस बारे में आई शिकायत की जांच कराई जा रही है.

Most Popular

- Sponsored Advert -