MP के सिवनी में मिले 50 से अधिक गोवंशों के शव, कटी हुई थी गर्दन, जांच में जुटी पुलिस

MP के सिवनी में मिले 50 से अधिक गोवंशों के शव, कटी हुई थी गर्दन, जांच में जुटी पुलिस
Share:

सिवनी: मध्य प्रदेश के सिवनी में बुधवार (19 जून) को गोवंश के दर्जनों कटे शव बरामद हुए हैं, जिसके बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश फैल गया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची और घटना की छानबीन में लग गई है। जिला प्रशासन ने मवेशी डॉक्टर को बुलाकर शवों का परीक्षण करवाया है। इसके बाद गोवंश के शवों कों दफन कर दिया गया है। पुलिस पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इन सबके पीछे आखिर कौन लोग हैं ?

रिपोर्ट के अनुसार, सिवनी जिले के पिंडरई के नजदीक वैनगंगा नदी में 19 गोवंश के शव बरामद हुए। वहीं, धूमा क्षेत्र में इस तरह के 32 शव मिले। इनकी गर्दनें कटी हुईं थीं और ये सभी गोवंश (गाय, बैल या बछड़ा) के थे। शवों का कुछ हिस्सा नजदीकी जंगलों से भी बरामद हुआ है। पुलिस ने गाँव के लोगों की सहायता से गोवंश के शवों को वैनगंगा नदी से बाहर निकाला और उन्हें दफनाने की प्रक्रिया पूरी की। गाँव वालों का कहना है कि इस प्रकार की घटना इलाके में पहली दफा हुई है। 

 

वहीं, कुछ लोगों यह भी कह रहे हैं कि कुछ गोवंश शव नदी में बहकर आए हैं, लेकिन फिर सवाल ये उठता है कि इनकी गर्दनें काटकर इन्हे नदी में फेंका किसने होगा ? बताया जा रहा है कि सरकार मवेशी तस्करों के खिलाफ निरंतर कार्रवाई कर रही है। ऐसे में पुलिस से बचने के लिए तस्करों ने गोवंश का सिर काटकर उसे नदी या अन्य जगहों पर फेंक दिया होगा। हालाँकि, ये केवल लोगों या पुलिस-प्रशासन का अनुमान है, सच्चाई अभी भी अज्ञात है। 

पुलिस अधीक्षक (SP) राकेश सिंह ने जानकारी दी है कि पुलिस मवेशी तस्करों पर लगातार कार्रवाई कर रही है। पूरे जिले में मवेशी तस्करों पर निगरानी रखी जा रही है और मवेशियों का अवैध रूप से परिवहन करने वालों को दबोचा जा रहा है।इस घटना से स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है, जिनका जीवन ही इन गाय-बैलों पर निर्भर है, क्योंकि अधिकतर लोग किसान हैं। उन्होंने इस मामले की जल्द से जल्द जाँच करके दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग की है। 

आरक्षण पर पटना हाई कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, सरकार के साथ राहुल गांधी के चुनावी वादे को भी झटका !

ससुराल में एंट्री करते ही दुल्हन करती थी ‘कांड’, चौंकाने वाला है मामला

युद्ध में एक दूसरे की मदद करेंगे..! किम जोंग और पुतिन में हुआ करार, क्या अब यूक्रेन को झेलनी होगी दोहरी मार ?

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -