मानसून सत्र: नहीं माने विपक्षी, जोरदार हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्थगित

नई दिल्ली: पेगासस जासूसी कांड, महंगाई, कोरोना महामारी, किसान आंदोलन जैसे कई मुद्दों को लेकर लोकसभा में हुए जोरदार हंगामे के बीच निचले सदन की कार्यवाही को दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है. लोकसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल चलाने ला प्रयास किया, किन्तु विपक्षी सांसदों के हंगामे में कोई कमी नहीं आई. वहीं दूसरी ओर राज्यसभा कांग्रेस सांसद राजीव सातव के निधन के चलते उच्च सदन की कार्यवाही 1 घंटे के लिए स्थगित कर दी गई.

इससे पहले पीएम मोदी ने लोकसभा में कैबिनेट में शामिल हुए नए मंत्रियों का परिचय करवाया. इस दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया. हंगामे के बीच पीएम मोदी ने कहा कि आशा थी कि आज सदन में उत्साह का वातावरण होगा, क्योंकि बड़ी तादाद में महिलाएं मंत्री बनी हैं. मुझे खुशी होती कि जो दलित भाई, आदिवादी मंत्री बने हैं, OBC समाज से हैं, उनका स्वागत होता, उनका परिचय होता, किन्तु शायद देश के दलित मंत्री, महिला, OBC, किसानों के बेटे मंत्री बनें, यह बात कुछ लोगों को पसंद नहीं आती है, इसलिए कैबिनेट में नवनियुक्त मंत्रियो का लोकसभा में परिचय करवाया गया, समझा जाए.

पीएम मोदी ने अपने अभिभाषण में कहा कि, कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लिया हुआ है. इसलिए हम चाहते हैं कि संसद में भी इस महामारी को लेकर सार्थक चर्चा हो. सभी व्यावहारिक सुझाव सभी सांसदों से मिलें, ताकि महामारी के खिलाफ जंग में नयापन आ सके और कमियों को भी सुधारा जा सके.

सिडनी ने कहा- अनिश्चितकालीन' लॉकडाउन से बाहर आने के लिए जरुरी टीकाकरण

जो बिडेन ने मध्य पूर्व वार्ता में कठिन विकल्पों के लिए अब्दुल्ला की मेजबानी की

हाउस अरेस्ट किए गए तेलंगाना कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी, 50 करोड़ की घूस देने का आरोप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -