तेलंगाना: नयनी नरसिम्हा रेड्डी के दामाद के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय का एक्शन, कई स्थानों पर डाली रेड

हैदराबाद: बीते कुछ समय से देश से कई तरह के मामले सामने आ रहे है वही इस बीच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शनिवार को कहा कि उसने प्रदेश में आईएमएस तथा ईएसआईसी विभागों में कथित धोखाधड़ी से संबद्ध धनशोधन पड़ताल के संबंध में तेलंगाना में पूर्व मंत्री दिवंगत नयनी नरसिम्हा रेड्डी के दामाद के परिसर सहित कई स्थान पर छापे मारे।

केंद्रीय जांच एजेंसी ने एक बयान में बताया कि उसने हैदराबाद में सात जगह पर खोजबीन के चलते ‘‘भारी मात्रा में अभियोजनयोग्य सबूत, बगैर लेखा-जोखा के तीन करोड़ रूपये नकद , संपत्ति के कागजात तथा लॉकर’ आदि बरामद किये हैं। उसने कहा कि छापेमारी अब भी जारी है। उसके मुताबिक डॉ़ देविका रानी, श्रीहरि बाबू उर्फ बाबजी, वी श्रीनिवास रेड्डी (नयनी नरसिम्हा रेड्डी के दामाद), एम विनय रेड्डी (मुकुंद रेड्डी के रिश्तेदार), बुर्रा प्रमोद रेड्डी के आवासीय परिसरों तथा ओमनी मेडी के कारोबारी परिसर की खोजबीन की गयी।

प्रवर्तन निदेशालय ने कहा, "श्रीनिवास रेड्डी, बुर्रा प्रमोद रेड्डी तथा एम विनय रेड्डी के परिसरों से बगैर लेखा जोखा के तकरीबन 1।50 करोड़ रूपये, 1।15 करोड़ रूपये तथा 45 लाख रूपये, 3 करोड़ की ज्वेलरी समेत 1 करोड़ के खाली चेक, संपत्ति के कागजात तथा लॉकर जब्त किए गए। उसने कहा कि तेलंगाना के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की ओर से दर्ज की गयी आठ प्राथमिकियों के आधार पर उसने इंश्योरेंस मेडिकल सर्विसेज (आईएमएस) के वर्तमान निदेशक डॉ। देविका रानी, उनके पति तथा ओमनी ग्रुप के श्रीहरि बाबू उर्फ बाबजी सात अन्य के विरुद्ध धनशोधन रोकथाम अधिनियम के प्रावधानों के तहत पड़ताल आरम्भ की थी।

प्रधानमंत्री मोदी ने महात्मा ज्योतिबा फुले को अर्पित की श्रद्धांजलि, बोले- वे जीवन भर महिला...

राजस्थान में 7000 से अधिक पेट्रोल पंप हड़ताल पर, आम जनता की मुश्किलें बढ़ीं

इंदौर-उज्जैन में 19 अप्रैल तक टोटल लॉकडाउन, जानें क्या है आपके शहर का हाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -